होम /न्यूज /झारखंड /

धनबाद के नामी डॉक्टर समीर कुमार से रंगदारी मांगने के मामले में अमन सिंह गैंग के 4 गुर्गे गिरफ्तार

धनबाद के नामी डॉक्टर समीर कुमार से रंगदारी मांगने के मामले में अमन सिंह गैंग के 4 गुर्गे गिरफ्तार

धनबाद में डॉक्टर से रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया.

धनबाद में डॉक्टर से रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया.

Dhanbad News: धनबाद एसएसपी संजीव कुमार ने बताया कि पिछले दिनों जिले के जाने माने चिकित्सक समीर कुमार को अमन सिंह के नाम पर धमकी दी गई थी और रंगदारी मांगी गई थी. इस सिलसिले में एक अपराधी को बंगाल से गिरफ्तार किया गया. उसी की निशानदेही पर धनबाद के गोविन्दपुर से अन्य 3 बदमाशों को दबोचा गया.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- संजय गुप्ता

    धनबाद. झारखंड के धनबाद में कारोबारी से लेकर डॉक्टर को रंगदारी के कॉल्स आने से पुलिस की खूब किरकिरी हो रही है. अमन सिंह गैंग के छोटू सिंह द्वारा जाने माने सर्जन डॉक्टर समीर कुमार को 1 करोड़ रुपये फिरौती तथा 5 लाख प्रति माह रंगदारी का कॉल आया था. जिसके बाद डॉक्टर समीर कुमार ने धनबाद छोड़कर चले जाने की बात कही थी. फिलहाल डॉक्टर समीर कुमार जिले से बाहर चले गये हैं. इस बीच पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अमन सिंह गैंग के 4 गुर्गों को गिरफ्तार कर लिया.

    धनबाद एसएसपी संजीव कुमार ने शुक्रवार को बताया कि इस मामले में पुलिस ने 4 अपराधियों को साइबर सेल के सहयोग से गिरफ्तार किया है. पकड़े गए अपराधियों में बंटी खान, बीर बहादुर, इलियास और सिराजूदीन शामिल हैं. एसएसपी ने डॉक्टर समीर कुमार से फोन पर बातकर पकड़े गए अपराधियों के सम्बंध में जानकारी देते हुए उनकी सुरक्षा को लेकर उन्हें आश्वस्त कराया.

    एसएसपी संजीव कुमार ने बताया कि पिछले दिनों जिले के जाने माने चिकित्सक समीर कुमार को अमन सिंह के नाम पर धमकी दी गई थी और रंगदारी की मांग की गई थी. अनुसंधान में पता चला की फर्जी सिम कार्ड से पश्चिम बंगाल से धमकी दी जा रही है. एक अपराधी को बंगाल से गिरफ्तार किया गया. उसी की निशानदेही पर गोविन्दपुर से यूपी के आजमगढ़ का रहने वाला बीर बहादुर सिंह उर्फ बीरू एवं अन्य को गिरफ्तार किया गया. पकड़े गए सभी अपराधी अमन सिंह से लगातार संपर्क में थे. वीर बहादुर सिंह रंगदारी से मिले पैसे को ठिकाने लगाने का काम करता था. इसके अलावा सिम सप्लायर एवं मीडिएटर की भूमिका निभाने वाले तमाम अपराधियों को पुलिस ने अब दबोच लिया है.

    एसएसपी ने प्रिंस खान के मामले में कहा कि वह देश के अलग-अलग हिस्सों में भागा भागा फिर रहा है. लेकिन पुलिस उसे बहुत जल्द दबोच लेगी. टेक्नोलॉजी की मदद लेकर अपराधी भले ही कुछ दिनों तक चकमा दे सकते हैं लेकिन उनका मंजिल जेल ही है. धनबाद के डॉक्टरों और व्यवसायियों को अपराधियों से डरने की आवश्यकता नहीं है. वे निर्भीक होकर अपना व्यवसाय करें धनबाद पुलिस उनकी सुरक्षा करेगी.

    Tags: Dhanbad news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर