Home /News /jharkhand /

धनबाद में 80 लाख का 174 किलो गांजा जब्त, ट्रक छोड़कर तस्कर हुए फरार

धनबाद में 80 लाख का 174 किलो गांजा जब्त, ट्रक छोड़कर तस्कर हुए फरार

धनबाद के धनसार में पुलिस ने ट्रक में लदी गांजे की बड़ी खेप को जब्त किया.

धनबाद के धनसार में पुलिस ने ट्रक में लदी गांजे की बड़ी खेप को जब्त किया.

Dhanbad News: गुप्त सूचना के आधार पर गांजा लदे ट्रक को एएसपी ने पकड़ा. ट्रक में 30 पेटी में 174 किलोग्राम गांजा लदा था. हालांकि पुलिस को देखते ही तस्कर और ड्राइवर ट्रक छोड़कर फरार हो गये. जब्त गांजे की कीमत 80 लाख रुपये से अधिक बताई गई है.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट- संजय गुप्ता

    धनबाद. धनबाद पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी. पुलिस ने गांजा लदे ट्रक को जब्त किया. हालांकि ड्राइवर और तस्कर अंधेरे का लाभ उठाकर भागने में सफल हो गया. मामला धनसार थाना क्षेत्र के दुहाटांड का है. गुप्त सूचना पर धनबाद एएसपी मनोज स्वर्गीयार के नेतृत्व में धनसार थाना प्रभारी जय राम प्रसाद ने दल बल के साथ छापा मारा, और गांजा लदे ट्रक को जब्द किया. जब्त गांजे की कीमत 80 लाख रुपये से अधिक बताई गई है.

    सिटी एसपी आर रामकुमार ने प्रेसवार्ता कर बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर गांजा लदे ट्रक को एएसपी ने पकड़ा. ट्रक में 30 पेटी में 174 किलोग्राम गांजा लदा था. हालांकि पुलिस को देखते ही तस्कर और ड्राइवर ट्रक छोड़कर फरार हो गये. जब्त ट्रक के आधार पर तस्करों तक पंहुचने की कोशिश की जा रही है. पुलिस इस बात का भी पता लगाने में जुटी हुई कि गांजा की इतनी बड़ी खेप कहां से कहां जा रही थी.

    बता दें कि इन दिनों धनबाद के मनईटाड़, गांधीनगर, धनसार थाना के पीछे, चांदमारी, बरमसिया, दुहाटाड़ सहित कई इलाकों में गांजा बेचने का गोरखधंधा धड़ल्ले से जारी है. इन इलाकों के युवा नशे के शिकार हो रहे हैं. तीन माह पूर्व ही मनईटाड़ कुम्हार पट्टी इलाके में दो युवकों के घर छापेमारी कर पुलिस ने भारी मात्रा में गांजा जब्त किया था. चार माह पूर्व धंधेबाज अनिल सिंह और दस दिन पूर्व राजीव और बबलू चौरसिया को जेल भेजा गया.

    Tags: Dhanbad news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर