'टॉयलेट एक प्रेम कथा' का असल किरदार धनबाद में

Abhishek Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 13, 2017, 12:47 AM IST
'टॉयलेट एक प्रेम कथा' का असल किरदार धनबाद में
लक्ष्मी देवी भूली, धनबाद
Abhishek Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 13, 2017, 12:47 AM IST
धनबाद में एक शौचालय के लिए पति-पत्नी के बीच झगड़ा. फिर पत्नी की जिद पर पति द्वारा शौचालय बनाने के लिए मजबूर होने के दमदार कहानी वाली 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' का असल किरदार कोयलांचल धनबाद में देखने को मिला है. शौचालय के लिए पत्नी की बगावत पर पति को शौचालय बनाना पड़ा. अब धनबाद नगर निगम 15 अगस्त स्वतन्त्रता दिवस के मौके पर भूली की महिला लक्ष्मी को न सिर्फ सम्मानित करने जा रही बल्कि दूसरे लोगों को प्रेरित और जागरूक करने के लिए निगम उन्हें स्वच्छता अभियान का ब्रांड एम्बेसडर बनाने जा रही है.

दरअसल धनबाद के भूली के रहने वाले राजेश महतो और उनकी धर्म पत्नी लक्ष्मी देवी की शादी के 11 वर्ष हो गए. दोनों को एक बेटा और एक बेटी है. मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करने वाले राजेश के पास शौचालय नहीं होने के कारण पूरा परिवार खुले में शौच जाने को मजबूर था. दो माह पहले निगम द्वारा राजेश को शौचालय बनाने के लिए पहली किस्त की 6 हजार राशि मिली.

इस पैसे का उपयोग शौचालय निर्माण के लिए करने के बजाय राजेश ने एक साधारण मोबाइल के रहते स्मार्ट फोन खरीदने में कर लिया. शौचालय नहीं बनने से दुखी पत्नी लक्ष्मी ने घर में चूल्हा चौका छोड़ पति से बात नहीं करने की ठान ली. आखिरकार अपने भूल का एहसास होने पर पति ने कर्ज लेकर पत्नी को शौचालय गिफ्ट किया तब जाकर विवाद खत्म हुआ.

धनबाद नगर निगम प्रबंधन को जब राजेश लक्ष्मी की कहानी का पता चला तो उन्होंने दूसरों को प्रेरित करने के उद्देश्य से इन्हें अपना ब्रांड एम्बेस्डर बनाने और 15 अगस्त पर सम्मानित करने का निर्णय लिया. बता दें कि 2 अक्तूबर 2017 तक धनबाद को ओडीएफ घोषित किए जाने का लक्ष्य रखा गया है.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर