• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • धनबाद: उद्घाटन शिलापट्ट पर विधायक का नाम नहीं होने से कुलपति को भाजपाइयों से मांगनी पड़ी माफी

धनबाद: उद्घाटन शिलापट्ट पर विधायक का नाम नहीं होने से कुलपति को भाजपाइयों से मांगनी पड़ी माफी

कुलपति ने इस मसले पर बीजेपी नेताओं से माफी मांग ली.

कुलपति ने इस मसले पर बीजेपी नेताओं से माफी मांग ली.

Binod Bihari Mahto Koyalanchal University: यूनिवर्सिटी के भेलाटांड़ स्थित नए परिसर के उद्घाटन शिलापट्ट में सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो का नाम दर्ज नहीं है. इस बात से नाराज भाजपाइयों ने कुलपति के सामने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

  • Share this:
    रिपोर्ट- संजय गुप्ता

    धनबाद. झारखंड के धनबाद में बीबीएमके यूनिवर्सिटी के उद्घाटन शिलापट्ट पर बीजेपी विधायक का नाम नहीं होने से कुलपति को भाजपाइयों का आक्रोश झेलना पड़ा. बाद में कुलपति को बीजेपी नेताओं से माफी मांगनी पड़ी. हालांकि बीजेपी नेता इससे भी शांत नहीं हुए. उन्होंने इस सिलसिले में राज्यपाल से मिलने की बात कही है.

    दरअसल बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय (Binod Bihari Mahto Koyalanchal University) के पहले दीक्षांत समाहरोह का आयोजन दो दिन पहले हुआ था. समारोह में राज्यपाल रमेश बैस और मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने हिस्सा लिया. इस दौरान 51 छात्रों को गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया. लेकिन दो दिन बाद ही विश्वविद्यालय के कुलपति अंजनी कुमार श्रीवास्तव को भाजपा विधायक और कार्यकर्ताओं के कोप का शिकार होना पड़ा.

    दरअसल यूनिवर्सिटी के भेलाटांड़ स्थित नए परिसर के उद्घाटन शिलापट्ट में सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो का नाम नहीं अंकित करवाया गया है. इस कारण कुलपति के प्रति भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश देखा गया. बीएड कॉलेज परिसर में कुलपति अंजनी कुमार श्रीवास्तव की सामने भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

    इस दौरान कुलपति ने गलती मानते हुए नेताओं से माफी मांग ली. और शिलापट्ट में विधायक का नाम दर्ज करवाने का भरोसा दिया. विधायक की पत्नी तारा देवी ने कहा कि शिलापट्ट में विधायक इंद्रजीत महतो का नाम नहीं रहने से सिंदरी विधानसभा क्षेत्र की जनता आहत हुई है. यह विधायक तथा यहां के जनता का अपमान है. इसलिए जनता में इस बात को लेकर आक्रोश है. इस सिलसिले में वो जल्द ही राज्यपाल से मुलाकात करेंगी.

    कुलपति अंजनी कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि शिलापट्ट में नाम दर्ज नहीं करवाले की गलती हुई है. यह भूल कैसे हो गयी, इसकी जानकारी ली जाएगी. नाम जोड़ना मेरे अधिकार क्षेत्र में नहीं है. फिर भी राज्यपाल से मुलाकात कर शिलापट्ट में नाम जोड़ने संबंधी बात रखी जाएगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज