होम /न्यूज /झारखंड /

वासेपुर डॉन फहीम खान बेटी के निकाह में भारी सुरक्षा के बीच पैरोल पर धनबाद पहुंचा

वासेपुर डॉन फहीम खान बेटी के निकाह में भारी सुरक्षा के बीच पैरोल पर धनबाद पहुंचा

जेल वैन से उतरने के बाद भारी सुरक्षा के बीच गैंगस्टर फहीम खान को रेलवे ऑफिसर क्लब ले जाया गया.

जेल वैन से उतरने के बाद भारी सुरक्षा के बीच गैंगस्टर फहीम खान को रेलवे ऑफिसर क्लब ले जाया गया.

Gangs Of Wasseypur: गैंगस्टर फहीम को जान से मारने की धमकी उसके ही भांजे प्रिंस खान ने दे रखी है. लिहाजा पुलिस फहीम की सुरक्षा में कोई कोताही बरतना नहीं चाहती. इसलिए पुलिस की स्पेशल टीम रांची होटवार जेल से ही उसके साथ है. इतना ही नहीं, मंगलवार की सुबह बैंक मोड़ थाना प्रभारी पीके सिंह ने फहीम के घर वालों से संपर्क कर शादी में शामिल होने वाले सभी लोगों के अलावा बावर्ची और अन्य लोगों के भी आधार कार्ड ले लिए हैं. घर के मुखिया की इजाजत पर ही कोई शख्स फहीम से मुलाकात कर पाएगा.

अधिक पढ़ें ...

संजय गुप्ता

धनबाद. कोयलांचल में गैंग्स ऑफ वासेपुर वाला गैंगस्टर फहीम खान अपनी छोटी बेटी और उसके सुहाग को आशीर्वाद देने के लिए मंगलवार को रांची होटवार जेल से पैरोल पर छूटकर 1 दिन के लिए धनबाद पहुंचा है. पुलिस उसे लेकर वासेपुर के कमर मखदुमी रोड स्थित उसके घर नहीं गई, बल्कि सीधे रेलवे ऑफिसर क्लब पहुंची.

बता दें कि गैंगस्टर फहीम को जान से मारने की धमकी उसके ही भांजे प्रिंस खान ने दे रखी है. लिहाजा पुलिस फहीम की सुरक्षा में कोई कोताही बरतना नहीं चाहती. इसलिए पुलिस की स्पेशल टीम रांची होटवार जेल से ही उसके साथ है. इतना ही नहीं, मंगलवार की सुबह बैंक मोड़ थाना प्रभारी पीके सिंह ने फहीम के घर वालों से संपर्क कर शादी में शामिल होने वाले सभी लोगों के अलावा बावर्ची और अन्य लोगों के भी आधार कार्ड ले लिए हैं. घर के मुखिया की इजाजत पर ही कोई शख्स फहीम से मुलाकात कर पाएगा. बाकी किसी अन्य को फहीम से मिलने या उसके आसपास जाने की भी इजाजत नहीं होगी.

कड़ी सुरक्षा के बीच है फहीम

धनबाद पुलिस ने गैंगस्टर फहीम की सुरक्षा की चौतरफा व्यवस्था की है. पुलिस को आशंका है कि वासेपुर में उस पर हमला किया जा सकता है, इस कारण फहीम खान को पुलिस शादी संपन्‍न होने के बाद भी उसके कमर मखदुमी रोड स्थित घर नहीं लेकर जाएगी. घरवालों के काफी आग्रह के बाद भी पुलिस ने उसे घर ले जाने से इनकार कर दिया. रेलवे ऑफिसर क्लब में ही उसे पूरी सुरक्षा के बीच रखा जाएगा. क्लब के जिस कमरे में फहीम को रखा गया है, उस कमरे की लगातार वीडियोग्राफी भी की जा रही है.

11 तक रहेगा पैरोल पर

बता दें कि वासेपुर का फहीम खान पिछले 13 साल से सागिर हत्याकांड में सलाखों के पीछे कैद है. उसने अपने बेटे-बेटी के निकाह के लिए सरकार से पैरोल मांगी थी, लेकिन इजाजत नहीं मिलने पर हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. हाईकोर्ट ने बेटे के निकाह में शामिल होने की इजाजत तो नहीं दी, लेकिन बेटी जन्‍नत के निकाह से पहले पैरोल मंजूर कर ली. आज की रात जन्‍नत का निकाह है और 11 को उसकी रुख्‍सती के साथ ही फहीम भी धनबाद से विदा हो जाएगा.

सिर्फ नजदीकी रिश्तेदार ही होंगे निकाह में

बता दे कि गुरुवार 5 मई को झारखंड उच्च न्यायालय के न्यायाधीश संजय कुमार द्विवेदी के खंडपीठ ने फहीम की याचिका पर सुनवाई के बाद आदेश पारित किया‌ था. फहीम खान की छोटी बेटी जन्‍नत खानम का निकाह वासेपुर में ही रहने वाले सैयद मो समीर के साथ हो रहा है. निकाह की सारी रस्म रात 9:30 बजे रेलवे ऑफिसर्स क्लब में होगी. केवल फहीम के नजदीकी रिश्तेदार ही निकाह मे शामिल होंगे.

Tags: Dhanbad news, Gangs of wasseypur, Jharkhand Police

अगली ख़बर