होम /न्यूज /झारखंड /

झारखंड: हैवानियत की शिकार आदिवासी लड़की के घर पहुंचे भाजपा नेता, दिया 28 लाख का चेक

झारखंड: हैवानियत की शिकार आदिवासी लड़की के घर पहुंचे भाजपा नेता, दिया 28 लाख का चेक

दुमका में पीड़ित परिजनों से मुलाकात करते हुए भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी.

दुमका में पीड़ित परिजनों से मुलाकात करते हुए भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी.

Jharkhand News: बांग्लादेशी घुसपैठियों की नजर आदिवासी परिवारों की बेटियों पर है. वह उन पर बुरी नजर बनाए हुए हैं और उनसे शादी कर उनका धर्म परिवर्तन करने में लगे हैं. वे इनकी आने वाली पीढ़ियों को पूरी तरह से अपने रंग में रंगने की साजिश में लगे हैं. ये बातें दुमका में हैवानियत की शिकार हुई आदिवासी युवती के घर पहुंचे भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कही.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

दुमका में आदिवासी लड़की से रेप के बाद हत्या कर दी गई थी, भाजपा नेताओं ने परिजनों को 28 लाख का चेक सौंपा.
भाजपा नेताओं ने कहा, बांग्लादेशी घुसपैठिये आदिवासी लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर धर्म परिवर्तन में लगे हैं.
भाजपा नेताओं ने प्रशासन पर मामले को दबाने का आरोप लगाते हुए चेतावनी देते हुए कहा कि अधिकारी ऐसा न करें.

रिपोर्ट- नितेश कुमार
दुमका. भारतीय जनता पार्टी के कई नेता दुमका जिले के रानीश्वर प्रखंड में उस आदिवासी लड़की के घर पहुंचे; जिसकी यौन शोषण के बाद हत्या कर उसके शव को पेड़ से लटका दिया गया था. भाजपा नेताओं ने पीड़ित परिजन को 28 लाख का चेक भी दिया और यह कहा कि वे खुद को अकेला न समझें. इस दौरान भाजपा नेता व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन मामले को दबाने में लगा था.

बुधवार को पीड़ित परिजनों के घर पहुंची भाजपा नेताओं की इस टीम में पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, सांसद निशिकांत दुबे, सांसद सुनील सोरेन, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश, सारठ विधायक रणधीर सिंह, पूर्व मंत्री लुईस मरांडी समेत कई स्थानीय नेता शामिल थे. इन सबों ने पीड़ित परिवार मृतका के परिजनों को 28 लाख रुपए का चेक प्रदान किया. साथ ही उन्हें आश्वासन दिया कि राज्य से लेकर राष्ट्रीय स्तर के भाजपा के सभी लोग आपके साथ हैं. आप अपने को अकेला न समझें.

बाबूलाल मरांडी का आरोप-जिला प्रशासन की भूमिका गलत

इस मौके पर पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने कहा कि मामले को शुरू में प्रशासन ने दबाने का प्रयास किया था. लेकिन, जब लोग सड़क पर उतरे तो प्रशासन को कार्रवाई करनी पड़ी. इस मामले में पुलिस के द्वारा सड़क जाम कर रहे ग्रामीणों पर भी केस कर दिया गया है जो कि काफी गलत है. उन्होंने प्रशासन को चेतावनी दी कि अगर इनलोगों पर किए गए केस नहीं वापस नहीं लिए गए तो सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन किया जाएगा.

निशिकांत दुबे बोले- बांग्लादेशी घुसपैठिए आदिवासियों के धर्म परिवर्तन में लगे

इस मौके पर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा कि बांग्लादेशी घुसपैठियों की नजर आदिवासी परिवारों की बेटियों पर है. वह उन पर बुरी नजर बनाए हुए हैं और उनसे शादी कर उनका धर्म परिवर्तन करने में लगे हैं. वे इनकी आने वाली पीढ़ियों को पूरी तरह से अपने रंग में रंगने की साजिश में लगे हैं.

भाजपा सांसद ने कहा कि ईसाई मिशनरियां जो धर्म परिवर्तन का काम करती थीं आज उनका यह प्रयास काफी छोटा साबित हो रहा है. आज तो उन्हें भी हमारे साथ खड़े होकर बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ आवाज बुलंद करनी होगी. उन्होंने कहा कि भाजपा इन बांग्लादेशी घुसपैठियों को मुंहतोड़ जवाब देगी, उनकी मंशा सफल नहीं होने देगी.

दीपक प्रकाश ने प्रशासनिक अधिकारियों को दी चेतावनी

झारखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने प्रशासनिक अधिकारियों को गलत कार्य नहीं करने की चेतावनी दी. उन्होंने कहा आज जहां कहीं भी ृदमनकारी नीतियों या गलत कदम के खिलाफ भाजपा या अन्य किसी पार्टी के द्वारा आवाज उठाई जा रही है तो प्रशासनिक और पुलिस के अधिकारी उनके खिलाफ मुकदमे दायर कर रहे हैं. मैं उन्हें चेतावनी देता हूं कि राज्य सरकार के इशारे पर वह गलत काम न करें क्योंकि यह सरकार ज्यादा दिन चलने वाली नहीं है.

Tags: Dumka news, Jharkhand news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर