दुमका: नाबालिग छात्रा की रेप के बाद हत्या मामले पर सियासत शुरू, बीजेपी ने की सीबीआई जांच की मांग

बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की.
बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की.

बीजेपी सांसद समीर उरांव (Sameer Oraon) ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है. बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं है. बलात्कार और हत्या जैसी घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं, जबकि सरकार और पुलिस-प्रशासन मौन है

  • Share this:
दुमका. जिले के रामगढ़ थाना इलाके में नाबालिग की रेप (Rape) के बाद हत्या (Murder) के मामले में पुलिस के हाथ 24 घंटे बाद भी खाली हैं. इस बीच इस घटना पर राजनीति शुरू हो गयी है. भाजपा एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह राज्यसभा सदस्य समीर उरांव (Sameer Oraon) के नेतृत्व में तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल डीएमसीएच पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की. और घटना की जानकारी ली.

समीर उरांव ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है. बहन-बेटियां सुरक्षित नहीं है. बलात्कार और हत्या जैसी घटनाएं  तेजी से बढ़ रही हैं, जबकि सरकार और पुलिस प्रशासन मौन है.

सीबीआई जांच की मांग 



वहीं दुमका सांसद सुनील सोरेन ने घटना की सीबीआई जांच की
मांग की है. साथ ही सीएम हेमंत सोरेन को त्यागपत्र देने की नसीहत दी.

'अपराधी को सामाजिक स्तर पर मिलना चाहिए दंड'

भाजपा प्रतिनिधिमंडल के डीएमसीएच से जाते ही झामुमो युवा मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष सह दुमका विधानसभा उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी बसंत सोरेन वहां पहुंचे. और पीड़ित परिवार से मिलकर सांत्वना दिया. उन्होंने घटना को निंदनीय करार देते हुए कहा कि सरकार और प्रशासन अपना काम कर रही है. झामुमो पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है.

उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना को अंजाम देने वाले अपराधी को पकड़ कर समाज के सामने पेश करना चाहिए और समाजिक स्तर पर ही उसे दंडित किया जाना चाहिए. बसंत सोरेन ने विपक्षी पार्टी को इस तरह की घटना पर राजनीति नहीं करने की नसीहत ही.

झाड़ी से मिली लाश 

ज्ञात हो कि शुक्रवार सुबह रामगढ़ इलाके में 5वीं कक्षा की छात्रा ट्यूशन पढ़ने निकली थी. दोपहर में झाड़ी से उसका शव बरामद किया गया. घटनास्थल पर आपत्तिजनक सामान मिला. पुलिस प्रथम दृष्टया इसे रेप के बाद हत्या का मामला बता रही है. अनुसंधान जारी है. एसआईटी का गठन किया गया है. लेकिन 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ फिलहाल खाली हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज