सीएनटी- एसपीटी एक्ट का सबसे ज्यादा उल्लंघन जेएमएम ने किया- सीएम

सीएम ने कहा कि हालिया लोकसभा चुनाव में जनता ने परिवार और वंशवाद की राजनीति करने वालों को नकार दिया. कांग्रेस जैसी पुरानी पार्टी को विपक्ष के दर्जे के लायक नहीं छोड़ा.

Pancham kumar jha | News18 Jharkhand
Updated: July 9, 2019, 6:08 PM IST
सीएनटी- एसपीटी एक्ट का सबसे ज्यादा उल्लंघन जेएमएम ने किया- सीएम
सीएम ने कहा कि हालिया लोकसभा चुनाव में जनता ने परिवार और वंशवाद की राजनीति करने वालों को नकार दिया. कांग्रेस जैसी पुरानी पार्टी को विपक्ष के दर्जे के लायक नहीं छोड़ा.
Pancham kumar jha | News18 Jharkhand
Updated: July 9, 2019, 6:08 PM IST
मुख्यमंत्री रघुवर दास अपने संताल दौरे के सिलसिले में मंगलवार को दुमका जिले के जामा प्रखंड पहुंचे. यहां वे हाई स्कूल मैदान में आयोजित सदस्यता अभियान कार्यक्रम में शामिल हुए. सीएम ने कई लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया. अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 50 हजार नए सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है. यह तभी संभव है, जब कार्यकर्ता मिशन मोड में काम करेंगे.

जनता ने वंशवाद की सियासत को नकारा 

सीएम ने केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि हालिया लोकसभा चुनाव में जनता ने परिवार और वंशवाद की राजनीति करने वालों को नकार दिया. कांग्रेस जैसी पुरानी पार्टी को विपक्ष के दर्जे के लायक नहीं छोड़ा.

जेएमएम पर निशाना

जेएमएम पर निशाना साधते हुए सीएम ने कहा कि सीएनटी- एसपीटी एक्ट का सबसे ज्यादा उल्लंघन जेएमएम के द्वारा किया गया. सीएम ने कहा कि जिस प्रकार लोकसभा चुनाव में यहां की जनता ने बाहरी प्रत्याशी को नकारते हुए जामा के लाल सुनील सोरेन को विजयी बनाया, उसी तरह आगामी विधानसभा चुनाव में भी जामा की जनता स्थानीय को ही अपना जनप्रतिनिधि चुनें. तभी अबकी बार 65 पार का नारा सफल हो पाएगा.

सीएम के जाते ही मचा हंगामा

जामा हाईस्कूल मैदान में कार्यक्रम संपन्न होने के बाद सीएम के जाते ही कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया. जामा प्रखंड के उपप्रमुख सह भाजपा नेता इंद्रकांत दर्बे के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने जिला अध्यक्ष निवास मंडल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. कार्यकर्ताओं का आरोप है कि जिलाध्यक्ष ने इन्हें सीएम से मिलने नहीं दिया. दरअसल उपप्रमुख सीएम को एक ज्ञापन देना चाहते थे. जिलाध्यक्ष का कहना था कि सीएम का काफी व्यस्त प्रोग्राम था. कार्यक्रम के बाद वह देवघर के लिए निकल गए.
Loading...

ये भी पढ़ें- पिता शिबू के बाद बेटे हेमंत को हराने के लिए बीजेपी ने बनाई ये रणनीति

देसी- विदेशी पर्यटकों को भाने लगा झारखंड, दो सालों में दोगुना इजाफा

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुमका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 6:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...