होम /न्यूज /झारखंड /दुमका मर्डर केस: परिजनों से मिली राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम, डीजीपी से मुलाकात के बाद सौंपेगी रिपोर्ट

दुमका मर्डर केस: परिजनों से मिली राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम, डीजीपी से मुलाकात के बाद सौंपेगी रिपोर्ट

दिल्ली से आई आयोग की टीम पीड़िता के परिजनों से मिलने के बाद रांची में झारखंड के डीजीपी से भी मुलाकात करेगी.

दिल्ली से आई आयोग की टीम पीड़िता के परिजनों से मिलने के बाद रांची में झारखंड के डीजीपी से भी मुलाकात करेगी.

Jharkhand News: राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम बुधवार को दुमका पहुंची. एनसीडब्ल्यू की टीम ने दुमका मर्डर मामले में मृतका क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राष्ट्रीय महिला आयोग की दो सदस्यीय टीम पीड़िता के घर पहुंची और उनके परिजनों से मुलाकात की.
दिल्ली से आई आयोग की टीम रांची में झारखंड के डीजीपी से भी मुलाकात करेगी.
इस दौरान शिवानी डे और शालिनी सिंह ने परिजनों से बात कर पूरी घटना की जानकारी ली.

दुमका. दुमका की बेटी की हत्या मामले को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग की दो सदस्यीय टीम 31 अगस्त को दुमका पहुंची. दिल्ली से आई आयोग की टीम परिजनों से मिलने के बाद रांची में झारखंड के डीजीपी से भी मुलाकात करेगी. टीम डीजीपी से मुलाकात के बाद रिपोर्ट सौंपेगी. आयोग की दो सदस्यीय टीम में राष्ट्रीय महिला आयोग की अंडर सेक्रेटरी शिवानी डे और आयोग की लीगल काउंसलर शालिनी सिंह शामिल थीं.

इस दौरान शिवानी डे और शालिनी सिंह ने परिजनों से बात कर पूरी घटना की जानकारी ली. साथ ही जिस कमरे में अंकिता को जलाया गया था वहां जाकर एक-एक चीजों को देखा. आयोग की टीम ने परिवार से उन परिस्थितियों को जाना जिससे अंकिता की जान गई.

राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम ने लिया था संज्ञान 

एनसीडब्ल्यू की दो सदस्यीय टीम में शामिल राष्ट्रीय महिला आयोग की अंडर सेक्रेटरी शिवानी डे और लीगल काउंसलर शिवानी सिंह ने बताया कि राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा के आदेश पर हम लोग यहां आए हैं. हम लोग दुमका मर्डर केस की पूरी रिपोर्ट राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा को सौंपेंगे. हम लोगों ने परिजनों और पिता से बात की है. घटनास्थल भी देखा है, यहां से जाने के बाद रिपोर्ट तैयार कर आगे की कार्रवाई कराई जाएगी.

महिला आयोग ने लिया था मामले का संज्ञान 

इससे पहले राष्ट्रीय महिला आयोग ने दुमका मर्डर केस मामले का संज्ञान लिया था. एनसीडब्ल्यू चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने ट्वीट कर डीजीपी झारखंड को लेटर लिखकर निष्पक्ष जांच का आदेश दिया था. साथ ही सात दिन में रिपोर्ट मांगी थी. इस कड़ी में एनसीडब्ल्यू की दो सदस्यीय टीम मंगलवार शाम को ही रांची पहुंच गई थी और डीजीपी कार्यालय से मामले की जानकारी ली थी. बुधवार को टीम दुमका में अंकिता के घर पहुंची.

कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग 

बता दें, 23 अगस्त की रात अपने घर में सो रही दुमका की बेटी पर सनकी शाहरुख ने खिड़की से पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी. घटना को अंजाम देने के बाद शाहरुख फरार हो गया था. बाद में रिम्स में इलाज के दौरान पीड़िता की मौत हो गई थी. पीड़िता की मौत के बाद दुमका समेत देशभर के लोगों ने इस घटना की कड़ी निंदा की और इस मामले की त्वरित सुनवाई करते हुये आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने मांग की है.

Tags: Dumka news, Jharkhand news, National Women Commission

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें