होम /न्यूज /झारखंड /Jharkhand: पुलिस ने 6 महीने बाद कब्र खोदकर निकाली लाश, जानें हत्या से जुड़ा पूरा मामला

Jharkhand: पुलिस ने 6 महीने बाद कब्र खोदकर निकाली लाश, जानें हत्या से जुड़ा पूरा मामला

दुमका एसडीएम के आदेश पर निकाला गया शव (News18Hindi)

दुमका एसडीएम के आदेश पर निकाला गया शव (News18Hindi)

कोआम गांव (Koam Village) में पुलिस (Police) ने शनिवार को बेटे की शिकायत पर छह माह पूर्व (Six Month Ago) दफनाए गए 60 वर् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कोआम गांव में छह माह पहले दफनाया गया बायो हेंब्रम का शव कब्र से निकाला गया
मृतक के बेटे ने पुलिस को आवेदन देकर पिता की हत्या आशंका जताई थी
शव के फारेंसिक जांच के लिए बिसरा समेत अन्य सामग्री को रांची भेजा जाएगा

रिपोर्ट- नितेश कुमार

दुमकाः रामगढ़ (Ramgarh) थाना क्षेत्र अंतर्गत कोआम पंचायत (Koam Jury) के कोआम गांव में पुलिस (Police) ने शनिवार को बेटे की शिकायत पर छह माह पूर्व (Six Month Ago) दफनाए गए 60 वर्षीय बायो हेंब्रम (Bio Hembrum) के शव (Dead Body) को निकलवा कर पोस्टमार्टम कराया. एसडीएम के आदेश पर बीडीओ की मौजूदगी में सारी कार्रवाई की गई.

इसी वर्ष छह माह पूर्व 12 मई को दुमका के रामगढ़ थाना क्षेत्र के कोआम गांव के 60 वर्षीय बायो हेंब्रम की मृत्यु हो गई थी, उस समय उसके दोनों बेटे घर से दूर थे. बड़ा बेटा बाहर मजदूरी करने पश्चिम बंगाल गया था. वहीं दूसरा नायकी हेम्ब्रम खैरबनी गांव में ससुराल में रहता है. ग्रामीणों ने पुलिस को बताया था कि पेड़ से गिर जाने के कारण बायो हेंब्रम की मौत हो गई. इधर, छोटे बेटे ने ग्रामीणों की बात पर शव को दफना दिया.

झारखंड में हादसे का शिकार हुई टूरिस्ट बस, उड़ीसा के चार पर्यटकों की मौत

पिता की पेड़ से गिरकर मृत्यु नहीं हुई 

बताया जा रहा है कि जुलाई में जब मृतक का बड़ा बेटा शनिलाल हेंब्रम गांव लौटा तो उसे पिता की मृत्यु की जानकारी मिली. कुछ दिनों के बाद उसे गांव वालों से पता चला कि पिता की पेड़ से गिरकर मृत्यु नहीं हुई थी. उनका आरोप था कि गांव के दुर्गा टुडू ने घर के पीछे कुल्हाड़ी से प्रहार कर मौत के घाट उतार दिया था. इसके बाद शनिलाल ने रामगढ़ थाने में दुर्गा टुडू के खिलाफ पिता की हत्या का आवेदन दिया था. लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

इसके बाद शनिलाल हेंब्रम ने पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस उपमहानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक, उपायुक्त समेत कई वरीय अधिकारियों को आवेदन देकर इस मामले में जांच की मांग की. साथ ही आरोपित दुर्गा टुडू के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की. वरीय अधिकारियों के निर्देश पर रामगढ़ थाने में इस मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद शव को बाहर निकलवाने के लिए एसडीएम से अनुमति मांगी गई.

दुमका एसडीएम के आदेश पर निकाला गया शव

दुमका एसडीएम महेश्वर महतो के निर्देश पर दंडाधिकारी की मौजूदगी में, दफनाए गए शव को निकलवाया गया. अवर निरीक्षक संतोष कुमार ने बताया कि वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर शव को निकलवा कर जांच के लिए पोस्टमार्टम भेजा गया है. शव पूरी तरह से सड़ चुका है. केवल कंकाल ही साफ नजर आ रहा है. फॉरेंसिक जांच के लिए विसरा समेत अन्य सामग्री को रांची जांच के लिए भेजा जाएगा. इस पूरे मामले पर रामगढ़ थाना प्रभारी रूपेश कुमार ने बताया कि पहले यह मामला दुर्घटना का बताया गया था. बाद में जब मृतक के बेटे ने आवेदन दिया, उसके बाद यह सब कार्रवाई की जा रही है. इस मामले में अनुसंधान किया जा रहा है, जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Big crime, Dumka news, Jharkhand news, Murder case

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें