लाइव टीवी

एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड के आरोपी नक्सली आकाश मुर्मू पुणे से गिरफ्तार

News18 Jharkhand
Updated: October 14, 2019, 12:19 PM IST
एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड के आरोपी नक्सली आकाश मुर्मू पुणे से गिरफ्तार
दुमका पुलिस ने आकाश मुर्मू को पुणे से गिरफ्तार किया

2 जुलाई 2013 को दुमका से पाकुड़ लौटने के दौरान काठीकुण्ड के आमतल्ला के पास एसपी अमरजीत बलिहार (SP Amarjeet Balihar) के काफिले पर नक्सलियों (Naxalites) ने एके 47, इंसास राइफल और एसएलआर से गोलियों की बौछार कर दी थी. इसमें एसपी समेत 6 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी.

  • Share this:
दुमका. पुलिस (Dumka Police) को बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने एक लाख के इनामी नक्सली आकाश मुर्मू (Naxal Aakash Murmu) को महाराष्ट्र के पुणे (Pune) से गिरफ्तार (Arrest) किया है. आकाश मुर्मू एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड (SP Amarjeet Balihar murder case) में शामिल था. इसके अलावा उसपर आधा दर्जन अन्य मामले भी दर्ज हैं. पाकुड़ के तत्कालीन एसपी अमरजीत बलिहार की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी. 2 जुलाई 2013 को दुमका से पाकुड़ लौटने के दौरान काठीकुण्ड के आमतल्ला के पास एसपी के काफिले पर नक्सलियों ने एके 47, इंसास राइफल और एसएलआर से गोलियों की बौछार कर दी थी. इसमें एसपी समेत 6 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी.

पुलिस से बचने के लिए पुणे में छिपा था

आकाश मुर्मू उर्फ साहेब राम हांसदा जिले के रामगढ़ प्रखंड के लखनपुर का रहने वाला है. वह 2013 में नक्सली संगठन में शामिल हुआ था. उसी वर्ष पाकुड़ के तत्कालीन एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड में शामिल होने के कारण इसका नाम चर्चा में आया. 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र में पोलिंग पार्टी पर हुए हमले में भी आकाश शामिल था. कुल पांच मामलों में दुमका पुलिस को इसकी तलाश थी.

एसपी वाई. एस. रमेश ने बताया कि पुलिस की दबिश बढ़ने के चलते ही आकाश पुणे में जाकर छिप गया था. लेकिन पुलिस को इसके बारे में गुप्त सूचना मिल गई. जिसके बाद साइबर डीएसपी के नेतृत्व में टीम गठित कर पुणे भेजा गया. जहां से इसकी गिरफ्तारी संभव हुई. टीम में शामिल पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया.

एसपी बलिहार हत्याकांड में दो नक्सलियों को फांसी की सजा

एसपी अमरजीत बलिहार समेत 6 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले दुमका कोर्ट ने पिछले साल दो नक्सलियों को दोषी ठहराया था, जबकि साक्ष्य के अभाव में पांच को बरी कर दिया था. कोर्ट ने सुखलाल मुर्मू उर्फ प्रवीर और सनातन वास्ती उर्फ ताला को दोषी करार दिया था. कोर्ट ने बाद में दोनों नक्सलियों को फांसी की सजा सुनाई थी.

इनपुट- पंचम झा
Loading...

ये भी पढ़ें- जेल में बंद सरगना के इशारे पर गुर्गे देते थे घटना को अंजाम, एक ट्रक चोरी के सामान बरामद

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुमका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 11:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...