लाइव टीवी

क्‍वारंटाइन सेंटर में रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने जताई हलवा-पूड़ी खाने की इच्छा, प्रशासन ने किया ये काम
Dumka News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 9, 2020, 11:49 PM IST
क्‍वारंटाइन सेंटर में रह रहे अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने जताई हलवा-पूड़ी खाने की इच्छा, प्रशासन ने किया ये काम
इस बाबत सामानों की सूची बनाकर बीडीओ को दिया गया, जिसमें सुजी, डालडा, चीनी, नारियल गड़ी, गरम मसाला, लौंग, इलायची और तेजपत्ता की मांग की गई थी. बीडीओ ने लिस्ट के अनुरूप सामग्री उपलब्ध करायी.

इस बाबत सामानों की सूची बनाकर बीडीओ को दिया गया, जिसमें सुजी, डालडा, चीनी, नारियल गड़ी, गरम मसाला, लौंग, इलायची और तेजपत्ता की मांग की गई थी. बीडीओ ने लिस्ट के अनुरूप सामग्री उपलब्ध करायी.

  • Share this:
दुमका. झारखंड के दुमका जिला के विभिन्न क्‍वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) में लगभग आठ सौ लोग रह रहे हैं. मसलिया प्रखंड के निश्चितपूर स्थित एक प्राइवेट स्कूल को क्‍वारंटाइन सेंटर बनाया गया है, जिसमें 80 अल्पसंख्यक समुदाय के लोग भी शामिल हैं. गुरुवार को शब-ए-बारात के मौके पर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने प्रशासन से विशेष खाने की मांग की थी. लोगों ने हलवा और पूड़ी खाने की इच्छा जाहिर की.

इस बाबत सामानों की सूची बनाकर बीडीओ को दिया गया, जिसमें सुजी, डालडा, चीनी, नारियल गड़ी, गरम मसाला, लौंग, इलायची और तेजपत्ता की मांग की गई थी. बीडीओ ने लिस्ट के अनुरूप सामग्री उपलब्ध करायी. क्‍वारंटाइन सेंटर के रसोईया द्वारा पूड़ी बनायी गई. जबकि हलवा अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने खुद से बनाने की इच्छा जताई. प्रशासन ने हलवा के लिए सभी सामग्री उन्हें दी.

ये थी खास वजह
मो. जमील शेख ने बताया कि शब-ए-बारात के मौके पर हलवा पूड़ी खाने की परंपरा रही है. उन्होंने कहा कि वैसे तो त्यौहार का उत्सव परिवार के सदस्यों के साथ मनाया जाता है, लेकिन इस वर्ष शब-ए-बारात के मौके पर क्‍वारंटाइन सेंटर में हैं और यहां रहने वाले सभी लोग एक परिवार की तरह 10 दिनों से रह रहे हैं. उन्होंने कहा कि वैश्विक आपदा के कारण त्यौहार का उमंग तो नहीं लेकिन त्यौहार की औपचारिकता तो पूरी करनी ही होगी. उन्होंने कहा कि कोरोना संकट दूर करने की दुआ अल्ला ताला से करेंगे. जिला प्रशासन को इसके लिए शुक्रिया अदा किया.



वहीं, मसलिया प्रखंड के बीडीओ संजय कुमार ने कहा कि किसी की धार्मिक भावना को ठेस ना पहुंचे. प्रशासन का यह प्रयास है. इसी को ध्यान में रखकर लिस्ट के अनुरूप सामग्री उपलब्ध कराई गई है. इस मौके पर सेंटर में रह रहे बच्चों के बीच बीडीओ ने बिस्किट और टॉफी भी बांटे.



(रिपोर्ट- पंचम झा)

ये भी पढ़ें-

Ranchi Covid-19 Update: 5 नये केस के बाद हिंदपीढ़ी सील, 4 ड्रोन से निगरानी

झारखंड में COVID-19 से पहली मौत, बोकारो में 75 वर्षीय बुजुर्ग ने तोड़ा दम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुमका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 9:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading