लाइव टीवी

65 वर्षीय दासी कर्मकार PM मोदी से मिलने दिल्ली हुई रवाना, पेट में था 40 किलो का ट्यूमर

Prabhanjan kumar | News18 Jharkhand
Updated: September 29, 2019, 11:23 AM IST
65 वर्षीय दासी कर्मकार PM मोदी से मिलने दिल्ली हुई रवाना, पेट में था 40 किलो का ट्यूमर
पूर्वी सिंहभूम जिले के बहरागोडा प्रखंड के पाथरा गांव की रहने वाली 65 वर्षीय दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी.

दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी. दासी के पेट में 40 किलो का ट्यूमर था, जिसका आयुष्मान भारत के तहत आॅपरेशन हो चुका है.

  • Share this:
पूर्वी सिंहभूम. झारखंड में पूर्वी सिंहभूम जिले (Poorvi Singhbhoomi District) के बहरागोडा प्रखंड (Bahragoda Block) के पाथरा गांव (Pathra Village) की रहने वाली 65 वर्षीय दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी. दासी कर्मकार के पेट में 40 किलो का ट्यूमर (Tumor) था. दासी कर्माकर अपने पुत्र के साथ दिल्ली रवाना हो गयी है. प्रधाममंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने उन्हें स्वयं आमंत्रण दिया है. आपको बता दें कि दासी कर्मकार 30 सिंतबर को नयी दिल्ली में आयोजित हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकत करेगी. इसकी जानकारी सिविल सर्जन बी माहेश्ररी ने दी है. सिविल सर्जन ने कहा कि दासी कर्मकार के साथ उनके पुत्र और जिला से डॉ आरके पंडा भी साथ में गए हैं.

गरीबी के चलते अपना इलाज करवा पाने नहीं थी सक्षम

दासी कर्मकार पेट में 40 किलो का ट्यूमर लेकर बद से बदतर जिंदगी जीने को मजबूर थीं. दासी को आयुषमान भारत के तहत ऑपरेशन के बाद नयी जिंदगी मिली है. ऑपरेशन के पहले दासी दिन-रात एक ही खाट पर पड़ी रहती थी. गरीब होने के कारण किसी बड़े अस्पताल में अपना इलाज करा पाने में सक्षम नहीं थी.

Dasi Karmkaar-दासी कर्मकार
दासी कर्मकार 30 सिंतबर को नयी दिल्ली में आयोजित हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकत करेगी.


आयुष्मान भारत योजना के तहत हुआ आॅपरेशन

बंगाल और ओडिशा के अस्पताल के कई डॉक्टरों ने तो मरीज की हालत को देखकर इलाज शुरू करने से पहले ही ऑपरेशन करने से मना कर दिया. हर जगह से निराश होने के बाद दासी कर्माकर ने बेटे रामचंद्र कर्मकार ने डॉ एन. सिंह से संपर्क किया. इसके बाद दासी का आॅपरेशन आयुषमान भारत के तहत किया गया. सफल ऑपरेशन के बाद डॉक्टर एन सिंह समेत पूरे डॉक्टरों की टीम में खुशी की लहर है कि महिला को एक नयी जिन्दगी मिली है.

यह भी पढ़ें: रिम्स में कैंटीन के धुएं से परेशान हुए लालू प्रसाद यादव, डॉक्टर भी चिंतित
Loading...

आतंकी ने किया खुलासा, अलकायदा से जुड़ने वालों को ट्रेनिंग PAK में होती है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पूर्वी सिंहभूम से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 11:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...