Home /News /jharkhand /

65 वर्षीय दासी कर्मकार PM मोदी से मिलने दिल्ली हुई रवाना, पेट में था 40 किलो का ट्यूमर

65 वर्षीय दासी कर्मकार PM मोदी से मिलने दिल्ली हुई रवाना, पेट में था 40 किलो का ट्यूमर

पूर्वी सिंहभूम जिले के बहरागोडा प्रखंड के पाथरा गांव की रहने वाली 65 वर्षीय दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी.

पूर्वी सिंहभूम जिले के बहरागोडा प्रखंड के पाथरा गांव की रहने वाली 65 वर्षीय दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी.

दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी. दासी के पेट में 40 किलो का ट्यूमर था, जिसका आयुष्मान भारत के तहत आॅपरेशन हो चुका है.

पूर्वी सिंहभूम. झारखंड में पूर्वी सिंहभूम जिले (Poorvi Singhbhoomi District) के बहरागोडा प्रखंड (Bahragoda Block) के पाथरा गांव (Pathra Village) की रहने वाली 65 वर्षीय दासी कर्मकार प्रधानमंत्री से 30 सितंबर को मुलाकत करेगी. दासी कर्मकार के पेट में 40 किलो का ट्यूमर (Tumor) था. दासी कर्माकर अपने पुत्र के साथ दिल्ली रवाना हो गयी है. प्रधाममंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने उन्हें स्वयं आमंत्रण दिया है. आपको बता दें कि दासी कर्मकार 30 सिंतबर को नयी दिल्ली में आयोजित हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकत करेगी. इसकी जानकारी सिविल सर्जन बी माहेश्ररी ने दी है. सिविल सर्जन ने कहा कि दासी कर्मकार के साथ उनके पुत्र और जिला से डॉ आरके पंडा भी साथ में गए हैं.

गरीबी के चलते अपना इलाज करवा पाने नहीं थी सक्षम

दासी कर्मकार पेट में 40 किलो का ट्यूमर लेकर बद से बदतर जिंदगी जीने को मजबूर थीं. दासी को आयुषमान भारत के तहत ऑपरेशन के बाद नयी जिंदगी मिली है. ऑपरेशन के पहले दासी दिन-रात एक ही खाट पर पड़ी रहती थी. गरीब होने के कारण किसी बड़े अस्पताल में अपना इलाज करा पाने में सक्षम नहीं थी.

Dasi Karmkaar-दासी कर्मकार
दासी कर्मकार 30 सिंतबर को नयी दिल्ली में आयोजित हो रहे एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकत करेगी.


आयुष्मान भारत योजना के तहत हुआ आॅपरेशन

बंगाल और ओडिशा के अस्पताल के कई डॉक्टरों ने तो मरीज की हालत को देखकर इलाज शुरू करने से पहले ही ऑपरेशन करने से मना कर दिया. हर जगह से निराश होने के बाद दासी कर्माकर ने बेटे रामचंद्र कर्मकार ने डॉ एन. सिंह से संपर्क किया. इसके बाद दासी का आॅपरेशन आयुषमान भारत के तहत किया गया. सफल ऑपरेशन के बाद डॉक्टर एन सिंह समेत पूरे डॉक्टरों की टीम में खुशी की लहर है कि महिला को एक नयी जिन्दगी मिली है.

यह भी पढ़ें: रिम्स में कैंटीन के धुएं से परेशान हुए लालू प्रसाद यादव, डॉक्टर भी चिंतित

आतंकी ने किया खुलासा, अलकायदा से जुड़ने वालों को ट्रेनिंग PAK में होती है

Tags: Ayushman Bharat scheme, Jharkhand news, Pm narendra modi

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर