लाल कार्ड के चावल से घर का चूल्हा जलता है, गरीब किसान पर दर्ज हो गया 94 लाख की GST चोरी का केस

पीड़ित किसान मोहन हांदसा केस दर्ज होने के बाद थाने के चक्कर लगाने पर मजबूर है.

पीड़ित किसान मोहन हांदसा केस दर्ज होने के बाद थाने के चक्कर लगाने पर मजबूर है.

GST Cheating: पीड़ित मोहन हांसदा किसान है. किसी तरह खेत में काम कर अपना घर का चलाता है. वह लाल कार्डधारी है. लाल कार्ड से सरकारी चावल मिलता है, जिससे घर का चूल्हा जलता है.

  • Share this:
पूर्वी सिंहभूम. झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में मुसाबनी प्रखंड के रायपहाडी गांव के रहने वाले गरीब किसान मोहन हांसदा पर 94 लाख की जीएसटी चोरी (GST Theft) का मामला दर्ज हुआ है. मोहन के नाम भी एस इंटरप्राइजेज नामक कम्पनी बनाकर ईबिल के माध्यम से सुभद्रा स्टील को 4 करोड़ 83 लाख रुपये का स्टील बेचा गया. इस बिक्री के माध्यम से की गयी जीएसटी चोरी फाइन सहित 94 लाख रुपये है. इसी मामले में विभाग द्वारा गरीब किसान मुसाबनी थाने में 94 लाख रुपए जीएसटी चोरी का मामला दर्ज (FIR) कराया गया है.

किसान मोहन के घर पुलिस ने जाकर पूछताछ की. मोहन ने पुलिस को बताया कि गालुडीह के देवली गांव का रहने वाला बबलू हेम्ब्रम ने उससे आधारकार्ड, पैन कार्ड, फोटो, बैंक पासबुक और बिजली बिल लिया था और कहा था कि यदि कम्पनी में नौकरी करना है तो 10 हजार रुपये मिलेगा और नहीं करना है तो ढाई हजार रुपये घर बैठे हर महीना मिलेगा. यह राशि बैंक खाता में ही आएगी, इसी लालच में उसने अपने सारे कागजात बबलू को दे दिया.

मुसाबनी प्रखंड के ही कापागोडा के रहने वाले लादुम मुर्मू पर भी तीन करोड़ की जीएसटी टैक्स चोरी का मामला दर्ज किया गया है. लादूम के नाम पर भी फर्जी कंपनी बना कर करोड़ों के स्टील बेचे गये हैं. लादूम मुर्मू के बाद यह दूसरा किसान मोहन हासंदा है, जिसपर 94 लाख की जीएसटी चोरी का मामला सामने आया है.

पीड़ित मोहन हांसदा किसान है. किसी तरह खेत में काम कर अपना घर का चलाता है. वह लाल कार्डधारी है. लाल कार्ड से सरकारी चावल मिलता है, जिससे घर का चूल्हा जलता है. गांव में मनरेगा के तहत कई निर्माणकार्य हो रहे हैं. इसी में मोहन मजदूरी भी करता है.
मोहन हांसदा ने बताया कि उससे गलती हुई, जो उसने अपना कागजात किसी को दे दिया. उसने नाम पर फर्जी कंपनी बनाकर जीएसटी चोरी की गई है. ऐसा करने वालों पर पुलिस को जांच कर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज