हाथी की दादागीरी! ट्रक को रुकवाकर खाया धान और जंगल की ओर चला गया

घाटशिला में कालापाथर गांव के समीप बांधडीह मुख्य सड़क पर एक हाथी आया और ट्रक को रुकवाकर उसमें लदे धान को खाकर जंगल की ओर चला गया.

News18 Jharkhand
Updated: August 5, 2019, 10:31 AM IST
हाथी की दादागीरी! ट्रक को रुकवाकर खाया धान और जंगल की ओर चला गया
जब ट्रक रुकवाकर हाथी ने खाया धान
News18 Jharkhand
Updated: August 5, 2019, 10:31 AM IST
इंसान की तरह जानवर भी दादागीरी करते हैं. इस पर शायद ही किसी को यकीन हो, लेकिन ये सौ आने सच है. ऐसा ही एक वाकया पूर्वी सिंहभूम के घाटशिला में पेश आया. यहां एक हाथी सड़क से गुजर रहे ट्रक को रुकवाया. फिर उसमें लदे धान को मनभर खाना और जंगल की ओर चला गया. इस नजारे को देखने के लिए मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई, लेकिन इस सबसे बेपरवाह हाथी अपने मकसद को अंजाम दिया और आराम से मौके से निकल गया.

चाकुलिया और बहरागोड़ा में हाथियों का तांडव जारी 

यह घटना कालापाथर गांव के समीप बांधडीह मुख्य सड़क की है. वैसे इस इलाके के लिए हाथी के उत्पात कोई नई बात नहीं है. आए दिन चाकुलिया और बहरागोड़ा में हाथी तांडव मचाते हैं. किसी न किसी गांव में घुसकर नुकसान पहुंचाते हैं.

elephant
ट्रक रुकवाकर धान खाते हाथी


दरअसल हाथियों को जंगल में खाना मिलता नहीं है. इसके चलते वे गांव और सड़कों की ओर रूख कर रहे हैं. हाल में बहरागोड़ा के धानधोड़ी गांव में हाथियों ने स्कूल में घुसकर दरवाजा और खिड़की तोड़ दिए और मध्यान भोजन के दो क्विंटल चावल खा गये.

ग्रामीण मशाल जलाकर करते हैं अपनी सुरक्षा

हाथियों के लगातार हमले से ग्रामीण दहशत में रहते हैं. वे रात- रात भर मशाल जलाकर अपनी सुरक्षा करते हैं. वन विभाग की ओर से इस सिलसिले में कोई कार्रवाई नहीं होती है.
Loading...

रिपोर्ट- प्रभंजन कुमार

ये भी पढ़ें- एनएमसी के विरोध में जूनियर डॉक्टरों का कार्य बहिष्कार, रिम्स में ओपीडी सेवा ठप

पीएलएफआई को सप्लाई होता रांची से बरामद विस्फोटक, 15 के बदले 35 लाख रुपये मिलते
First published: August 5, 2019, 10:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...