Home /News /jharkhand /

पूर्वी सिंहभूम: पढ़ाई के साथ खेती का सबक, स्कूल में बनाई बाल कैबिनेट

पूर्वी सिंहभूम: पढ़ाई के साथ खेती का सबक, स्कूल में बनाई बाल कैबिनेट

पूर्वी सिंहभूम: पढ़ाई के साथ खेती का सबक, स्कूल में बनाई बाल कैबिनेट

पूर्वी सिंहभूम: पढ़ाई के साथ खेती का सबक, स्कूल में बनाई बाल कैबिनेट

स्कूल परिसर में ही बागवानी के साथ- साथ हरी सब्जी की खेती की जाती है. साथ ही स्कूल का परिसर स्वच्छ और सुन्दर रहे इसके लिए बच्चों के बीच विभिन्न विभागों के लिए मंत्रिमंडल बनाए गए हैं.

    झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के मुसाबनी प्रखंड का एक ऐसा स्कूल जहां स्कूल परिसर में ही बागवानी के साथ- साथ हरी सब्जी की खेती की जाती है. इस सब्जी से स्कूल के बच्चों के लिए भोजन बनता है. स्कूल की इस पहल से बच्चे और अभिभावक दोनों खुश हैं. पूर्वी सिंहभूम के मुसाबनी प्रखंड का बीहड़ और पहाड़ी इलाके का स्कूल- उत्क्रमित मध्य विद्यालय में बच्चों के भोजन के लिए स्कूल के प्रधानाचार्य सुधाकर नायक ने स्कूल परिसर में ही खेती शुरू कर दी है.

    खेती का काम स्कूल से पहले और स्कूल छुट्टी के बाद किया जाता है. इस काम में स्कूल के बच्चे, शिक्षक और गांव के लोग भी मदद करते हैं. प्रत्येक दिन स्कूल प्रार्थना से पहले बच्चे साफ-सफाई के साथ बागवानी और सब्जी की खेती को पानी देने का काम करते हैं. स्कूल के प्रधानाचार्य, शिक्षकों की मेहनत से स्कूल में शिक्षा के साथ-साथ साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता है.

    स्कूल का परिसर स्वच्छ और सुन्दर रहे इसके लिए बच्चों के बीच विभिन्न विभागों के लिए मंत्रिमंडल बनाए गए हैं. जिसे प्रधानमंत्री बनकर स्कूल के छात्र भुक्तू हासदा देखरेख करते हैं. स्कूल में स्वास्थ्य मंत्री, स्वच्छता मंत्री, सुरक्षा एवं न्याय मंत्री, पोषण मंत्री, उपस्थिति मंत्री, शिक्षा मंत्री, कौशल विकास मंत्री, पर्यावरण मंत्री, खेल-कूद एवं सांस्कृति मंत्री और सूचना एवं संपर्क मंत्री बनाए गए हैं. मंत्री बने बच्चे अपनी-अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं.

    स्वास्थ्य मंत्री हर दिन बच्चों के नाखून से लेकर ड्रेस की साफ सफाई और स्कूल परिसर में सुन्दर पर ध्यान देता है. इसी तरह अन्य बच्चे भी अपना-अपना मंत्री मंडल चला रहे हैं. गांव के लोगों के मुताबिक स्कूल परिसर में शिक्षा के साथ-साथ साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता है. वहीं समय-समय पर प्रखंड के बीडीओ संतोष कुमार गुप्ता भी इस स्कूल में निरीक्षण करने आते हैं और सब्जी की खेती पर स्कूल के शिक्षक, बच्चें और ग्रामीणों का हौसला बढाते हैं.

    यह भी पढ़ें- यहां बाल कैबिनेट के अंतर्गत बच्चों को सौंपे गए विभाग के विभिन्न पद !

    यह भी पढ़ें-  स्कूल विलय का अनोखा विरोध, दो गांव वाले बने शिक्षक, बंद स्कूल में बच्चे ले रहे हैं शिक्षा

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Ghatshila, Government primary schools, Jharkhand news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर