मुसाबनी सब्जी मंडी अग्निकांड पीड़ितों की होगी हर संभव सहायता: सांसद महतो

सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा कि आगजनी की घटना की जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि दोषी कोई भी हो उसे सलाखों के पीछे ले जाने का भी पुलिस को करना चाहिए. सांसद ने कहा कि किसी एक की गलती से दर्जनों दुकान जलकर राख हो गई.

Prabhanjan kumar | News18 Jharkhand
Updated: October 13, 2018, 1:07 PM IST
मुसाबनी सब्जी मंडी अग्निकांड पीड़ितों की होगी हर संभव सहायता: सांसद महतो
आगजनी पीड़ितों से मिलते सांसद महतो
Prabhanjan kumar | News18 Jharkhand
Updated: October 13, 2018, 1:07 PM IST
घाटशिला की मुसाबनी सब्जी मंडी में लगी आग के पीड़ित दुकानदारों से सांसद विद्युत वरण महतो ने मुलाकात की. महतो ने पीड़ित दुकानदारों की समस्याओं को जाना और जमशेदपुर के टाटा रिलीफ सोसायटी और घाटशिला एचसीएल-आईसीसी की तरफ से मदद का भरोसा दिलाया. इस दौरान टाटा रिलीफ सोसायटी की तरफ से दुकानों को फिर से बसाने के लिए 220 कॉंक्रीट शीट दिए गए. प्रत्येक दुकानदार को चार टीन शेड और तिरपाल भी दिए गए. इसके लिए एचसीएल-आईसीसी की तरफ से टीन शेड लगाने के लिए लोहे की एंगल और अन्य आवश्यक सामग्री देने व क्षतिग्रस्त हुई सामग्री बदलने का भरोसा दिया.

इस मौके पर सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा कि आगजनी की घटना की जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि दोषी कोई भी हो उसे सलाखों के पीछे ले जाने का भी पुलिस को करना चाहिए. सांसद ने कहा कि किसी एक की गलती से दर्जनों दुकान जलकर राख हो गई. ऐसे लोगों को पुलिस प्रशासन और समाज दोनों तरफ से दंडित होना चाहिए. उन्होंने कहा कि एचसीएल-आईसीसी और टाटा रिलीफ सोसायटी की तरफ से आगजनी पीड़ित दुकानदारों की मदद की जा रही है.

सासंद महतो ने कहा कि टाटा और एचसीएल के साथ ही मुख्यमंत्री सहायता कोष से प्रत्येक दुकानदार को पांच-पांच हजार रुपये दिए जाएंगे. साथ ही दुकानदारों की हर संभव मदद की जाएगी, ताकि वे फिर से अपना व्यवसाय शुरू कर सके. आपको बता दें कि आठ अक्तूबर की रात को मुसाबनी सब्जी मंडी में आग लग गई थी, जिससे 51 दुकानें जलकर राख हो गई. आग लगने का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है. दुकानदारों ने आरोप लगाया कि आग लगी नहीं है, बल्कि लगाई गई है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

यह भी पढ़ें-  सब्जी मंडी में लगी आग, कई दुकानें जलकर खाक

यह भी पढ़ें-  VIDEO: विभिन्न मांगों को लेकर HCL कंपनी के मजदूरों ने किया प्रदर्शन
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर