चाकुलिया नगर पंचायत में 16 गांव और जोड़ने का विरोध

पूर्वी सिंहभूम के चाकुलिया नगर पंचायत में अन्य 16 गांवों को जोड़ने की खबर पर आज पास के ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया है. ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जो गांव पहले से नगर पंचायत में जुड़े थे, उन गांवों का आज भी विकास नहीं हो पाया है. ऐसे में अन्य गांवों को जोड़कर क्या फायदा.

Prabhanjan kumar | News18 Jharkhand
Updated: September 17, 2018, 6:34 PM IST
चाकुलिया नगर पंचायत में 16 गांव और जोड़ने का विरोध
चाकुलिया नगर पंचायत में कुछ इस दशा में रह रहे ग्रामीण
Prabhanjan kumar | News18 Jharkhand
Updated: September 17, 2018, 6:34 PM IST
झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के चाकुलिया नगर पंचायत में अन्य 16 गांवों को जोड़ने की खबर पर आज पास के ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया है. ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जो गांव पहले से नगर पंचायत में जुड़े थे, उन गांवों का आज भी विकास नहीं हो पाया है. ऐसे में अन्य गांवों को जोड़कर क्या फायदा. ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि गांव में रहने वाले दिहाड़ी मजदूरी करने वाले ग्रामीणों को हॉल्डिंग टैक्स का अतिरिक्त भार सहन नहीं कर पाएंगे. ग्रामीणों ने बैठक कर 16 गांवों को नगर पंचायत में जोड़ने का विरोध जताने के साथ ही एक कमेटी बनाकर आंदोलन करने का निर्णय लिया है.

ग्रामीणों ने अपने विरोध के लिए ग्राम रक्षा समिति का गठन कर आंदोलन करने का निर्णय लिया है.ग्रामीणों ने कहा कि नगर पंचायत में पहले से दीघी,सोनाहारा,सुगनीबासा गांव समेत अन्य गांव शामिल हैं जिसमें आज भी नगर पंचायत से विकास नहीं हुआ है.इन गांवों में नाली का पानी सड़क पर बहता है.ग्रामीणों के सभी घर मिट्टी के बने हैं. कच्ची सड़क पर से लोग आना-जाना करते हैं. ऐसे में और भी गांवों को नगर पंचायत से जोड़ने से हालत और बी खराब हो जाएगी.ग्रामीणों ने कहा कि हम किसी भी कीमत पर और गांवों को नगर पंचायत में नहीं जुड़ने देंगे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार