• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड के स्वास्थ्य विभाग का कारनामा, पति-पत्नी दोनों ने कराई नसबंदी, फिर भी पत्नी हो गई प्रेग्नेंट

झारखंड के स्वास्थ्य विभाग का कारनामा, पति-पत्नी दोनों ने कराई नसबंदी, फिर भी पत्नी हो गई प्रेग्नेंट

पांच हफ्ते बाद बच्ची को देख सकी मां (सांकेतिक तस्वीर)

पांच हफ्ते बाद बच्ची को देख सकी मां (सांकेतिक तस्वीर)

Garhwa News: पीड़िता ने इस सिलसिले में उपभोक्ता फोरम में शिकायत दर्ज कराई है. महिला ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मेराल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी और अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी गढ़वा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.

  • Share this:

    गढ़वा. झारखंड के गढ़वा में नसबंदी (Sterilization) के नाम पर स्वास्थ्य विभाग का भद्दा मजाक सामने आया है. पति और पत्नी, दोनों ने नसबंदी कराई थी. फिर भी पत्नी गर्भवती हो गई. बच्चे को जन्म देने के बाद दंपति ने उपभोक्ता फोरम (Consumer Forum) में शिकायत दर्ज कराई है.

    जानकारी के मुताबिक जिले के मेराल प्रखंड के दिलबोध टोला की 36 वर्षीय रशीदा बीवी ने नसबंदी ऑपरेशन के पांच साल बाद बच्चे को जन्म दिया. रशीदा ने इस सिलसिले में उपभोक्ता फोरम में शिकायत दर्ज कराई है. महिला ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मेराल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी और अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी गढ़वा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.

    रशीदा ने बताया कि 17 जनवरी 2013 को उसका सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेराल में नसबंदी का ऑपरेशन हुआ था. उसके पति सज्जाद अंसारी ने भी दो साल बाद इसी अस्पताल में नसबंदी कराई. दोनों को नसबंदी का सर्टिफिकेट भी विभाग की ओर से दिया गया. लेकिन नसबंदी के बाद भी वह प्रेग्नेंट हो गई. सदर अस्पताल गढ़वा में 30 अक्टूबर 2017 को उसने बच्चे को जन्म दिया.

    रशीदा के मुताबिक नसबंदी के बाद से उसकी तबीयत खराब रह रही है. पैदा होने वाले बच्चे की भी तबीयत ठीक नहीं रहती है. उसने नसबंदी के बाद भी बच्चे का जन्म होने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को देकर 2018 में मुआवजा के लिए आवेदन दिया. लेकिन अबतक उसे मुआवजा नहीं मिला है. विभाग के पदाधिकारी टाल-मटोल कर रहे हैं. यह सब देखते हुए उसने इस साल 15 जनवरी को उपभोक्ता फोरम में शिकायत दर्ज कराई है.

    गढ़वा सिविल सर्जन डॉ एनके रजक ने कहा कि नसबंदी के बाद भी महिला को बच्चा हुआ है तो प्रावधान के अनुसार उसे मुआवजा मिलेगा. महिला को अब तक मुआवजा क्यों नहीं मिला, इसके बारे में जांच कराकर जल्द ही महिला को मुआवजा का भुगतान कराया जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज