लाइव टीवी

प्रतिमा विसर्जन का साकची गोलचक्कर पर विहंगम दृश्य

Shailesh Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: October 1, 2017, 6:01 PM IST
प्रतिमा विसर्जन का साकची गोलचक्कर पर विहंगम दृश्य
मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन जुलूस

गढ़वा जिला के सोनपुरवा स्थित रामबांध तालाब में जिले के ऐतिहासिक गढ़देवी मंदिर में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया गया.

  • Share this:
जमशेदपुर के सभी 308 दुर्गा पूजा पंडालों की दुर्गा प्रतिमाएं साकची गोलचक्कर से होते हुए अपने गंतव्य घाटों की ओर रवाना हो रही हैं. साकची गोलचक्कर पर विहंगम दृश्य है. नाचते गाते और अपने-अपने राज्यों की संस्कृति लिए पूजा समिति के सदस्य मां दुर्गा की प्रतिमा को लेकर विसर्जन के लिए जा रहे हैं.

मालूम हो कि जमशेदपुर के सारे रास्ते साकची गोलचक्कर पर आकर मिल जाते हैं. यही वजह है कि विसर्जन जुलूस का ऐसा दृश्य कहीं और देखने को नहीं मिलता.

गढ़देवी मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन संपन्न

गढ़वा जिला के सोनपुरवा स्थित रामबांध तालाब में जिले के ऐतिहासिक गढ़देवी मंदिर में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया गया. मां की प्रतिमा विसर्जन के जुलूस में सैकड़ों की संख्या में भक्तों ने हिस्सा लिया. इस दौरान मां के जयकारे से गली मुहल्ले गुंजायमान हो गए.

गाजे बाजे के साथ नाचते झुमते स्थानीय लोगों ने कंधों पर सवार कर मां दुर्गा की प्रतिमा को विसर्जन स्थल रामबांध तालाब तक ले गए. इस दौरान गली मुहल्लों के निवासी अपने-अपने घरों से बाहर निकलकर प्रतिमा विसर्जन के जुलूस को देखने लगे. अपने घर के दरवाजे पर खड़े होकर ही लोग देवी को श्रद्धा के साथ नमस्कार करते दिखाई पड़े. प्रतिमा विसर्जन में शामिल भक्तों ने विसर्जन स्थल पर मां की पूजा अर्चना कर प्रतिमा का विसर्जन किया.

मुहर्रम के कारण इस दौरान पुलिस प्रशासन द्वारा शहर की सुरक्षा के लिए चाक चौबंद व्यवस्था की गई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गढ़वा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 30, 2017, 7:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर