पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी को 48 घंटे में झारखंड छोड़ने का फरमान, जान से मारने की धमकी

News18 Jharkhand
Updated: April 23, 2019, 1:40 PM IST
पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी को 48 घंटे में झारखंड छोड़ने का फरमान, जान से मारने की धमकी
पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी (फाइल फोटो)

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि पहले की उनकी जेड प्लस सुरक्षा वापस ले ली गई और अब ये चिट्ठी मिली है.

  • Share this:
झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और जेवीएम (झारखंड विकास मोर्चा) सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को पत्र लिखकर जान से मारने की धमकी दी गई है. ये पत्र नक्सलियों के नाम से लिखा गया है. रांची से डाक के द्वारा चिट्ठी उनके गिरिडीह स्थित घर के पते पर भेजी गई. चिट्ठी में अविनाश कुमार सिन्हा नाम के वकील के लेटर पैड का इस्तेमाल किया गया है. अविनाश गिरिडीह के बरमसिया के रहने वाले हैं.

चिट्ठी में चुनाव को लेकर बीजेपी के साथ समझौता होने का दावा किया गया है. साथ ही बाबूलाल मरांडी को 23 मार्च से 19 अप्रैल तक झारखंड में नहीं रहने को कहा गया है. जेवीएम के प्रत्याशियों को चुनाव से पीछे हटने का भी फरमान है. इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री को 48 घंटे का समय दिया गया है. ऐसा नहीं करने पर कांग्रेस के कोडरमा जिलाध्यक्ष शंकर यादव की तरह वाहन समेत उड़ाने की धमकी दी गई है.

बाबूलाल मरांडी ने इस सिलसिले में राज्य सरकार की मंशा पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि पहले की उनकी जेड प्लस सुरक्षा वापस ले ली गई और अब ये चिट्ठी मिली है. पूर्व सीएम ने कहा कि चिट्ठी के कटेंट से सरकार की मंशा संदिग्ध लग रही है. ऐसा भी हो सकता है कि ये मामला सरकार प्रायोजित हो. ऐसे में प्रशासन बिना देरी किये मामले की जांच करे और दोषियों को सजा दे.

रिपोर्ट- सुरेश कुमार

ये भी पढ़ें- धनबाद: बीजेपी प्रत्याशी पीएन सिंह ने भरा पर्चा, सीएम बोले- कांग्रेस ने रिजेक्टेड प्लेयर उतारा

झारखंंड: राहुल के माफीनामे पर बोले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष- 'चौकीदार चोर है' बयान पर पार्टी कायम

गृहमंत्री राजनाथ सिंह की मंगलवार को झारखंड में तीन जनसभाएं
Loading...

पीएम मोदी के अंदाज में सीएम रघुवर ने किया रोड शो, बोले- कांग्रेस और जेएमएम ने मुस्लिम समाज को केवल छला

कांग्रेस प्रत्याशी का आरोप- मंत्रालय के लोग चुनाव में जयंत सिन्हा की कर रहे मदद

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गिरिडीह से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 23, 2019, 12:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...