झारखंड का दूसरा झरिया बनने की राह पर गिरिडीह, अवैध कोयला खनन से जमीन हुई खोखली

गिरिडीह के सीसीएल इलाके में जमीन धंसने की घटना लगातार सामने आ रही है.

Giridih News: ग्रामीणों का कहना है कि अवैध कोयले का उत्खनन धड़ल्ले से हो रहा है. कोयला माफिया सुरंग बना कर कोयला निकाल रहे हैं. इस प्रकार जमीन अंदर ही अंदर खोखला होती जा रही है.

  • Share this:
    रिपोर्ट- एजाज अहमद

    गिरिडीह. झारखंड का गिरिडीह दूसरा झरिया बनने के कगार पर है. कोयले के अवैध उत्खनन (Illegal Coal Mining) से सीसीएल इलाका धीरे-धीरे खोखला होता जा रहा है. जिसकी वजह से जगह- जगह पर भू-धंसान हो रहा है. भू-धंसान को लेकर बनियाडीह में रह रहे हजारों की आबादी दहशत में जी रहे हैं. किन्ही को ये पता नहीं कि कब किसका घर जमीन के नीचे समा जाएगा. शनिवार को बारिश में बनियाडीह स्थित पुरानी टंकी के पास जमीन का एक बड़ा हिस्सा तेज आवाज के साथ धंस गया. 5 मीटर से अधिक नीचे दब गया.

    आशंका ये भी है कि अगर अवैध कोयला उत्खनन इलाके में थोड़ी सी आग की चिंगारी चल गई, तो जमीन के अंदर मौजूद कोयला झरिया जैसा जल जाएगा, परिणाम स्वरूप भू-धंसान की समस्या बढ़ जाएगी और लोगों को गिरिडीह के इस इलाके से विस्थापित होना पड़ेगा.

    यहां रह रहे ग्रामीणों का कहना है कि अवैध कोयले का उत्खनन धड़ल्ले से हो रहा है. कोयला माफिया सुरंग बना कर कोयला निकाल रहे हैं. इस प्रकार जमीन अंदर ही अंदर खोखला होती जा रही है. जिसकी वजह से बारिश में भू-धंसान होता है.

    लोगों का यह भी कहना है कि अगर समय रहते इस समस्या पर गंभीरता नहीं दिखाई गई, तो आने वाले दिनों में गिरिडीह झारखंड का दूसरा झरिया बन जाएगा.  और भू-धंसान आम बात हो जाएगी. परिणाम स्वरूप यहां रह रहे लोगों को विस्थापित करवाना पड़ेगा. अगर विस्थापन की समस्या उत्पन्न हुई तो इलाके में एक और बड़ा डिजास्टर होने वाला है.

    सबसे अहम बात यह है कि यहां पर रह रहे ग्रामीण इस समस्या को लेकर ज्यादा मुखर नहीं है. ये लोग कोयला माफिया से डरते हैं, क्योंकि इनका कहना है अगर वे कुछ बोलेंगे तो आने वाले दिनों में उन्हें परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना पड़ेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.