Home /News /jharkhand /

गिरिडीह में मॉब लिंचिंग! ग्रामीणों ने आदिवासी युवक को पीट-पीट कर मार डाला, जानें वजह...

गिरिडीह में मॉब लिंचिंग! ग्रामीणों ने आदिवासी युवक को पीट-पीट कर मार डाला, जानें वजह...

मृतक आदिवासी युवक के परिजनों का आरोप है कि जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो उसे घसीट कर लाकर उसके घर के सामने फेंक दिया गया, जहां बाद में उसकी मौत हो गयी

मृतक आदिवासी युवक के परिजनों का आरोप है कि जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो उसे घसीट कर लाकर उसके घर के सामने फेंक दिया गया, जहां बाद में उसकी मौत हो गयी

Jharkhand News: मृतक के परिजनों का आरोप है कि गांव के प्रधान संजुल मुर्मू के नेतृत्व में साजिश के तहत उनके परिवार का पहले सामाजिक बहिष्कार किया गया, फिर सोहराय पर्व के दिन उसके पति को गांव के प्रधान, रमेश मुर्मू, चंदवा मुर्मू, सांझला मुर्मू, बंसी मरांडी सहित लाठी-डंडे से लैस गांव के ही कई अन्य महिलाओं और पुरुषों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. बुरी तरह मारने-पीटने के बाद जय मुर्मू को प्रधान के घर पर बंधक बना कर रखा गया

अधिक पढ़ें ...

(एजाज अहमद)

गिरिडीह. झारखंड के गिरिडीह (Giridih) जिले में मॉब लिन्चिंग (Mob Lynching) का मामला सामने आया है. यहां ग्रामीणों द्वारा आदिवासी युवक जय मुर्मू को बंधक बना कर उसको पीट-पीटकर मार डाला (Beaten To Death) गया. घटना तिसरी प्रखंड के सलगाडीह गांव की है. मृतक के परिजनों का आरोप है कि गांव के प्रधान संजुल मुर्मू के नेतृत्व में साजिश के तहत उनके परिवार का पहले सामाजिक बहिष्कार किया गया, फिर सोहराय पर्व के दिन उसके पति को गांव के प्रधान, रमेश मुर्मू, चंदवा मुर्मू, सांझला मुर्मू, बंसी मरांडी सहित लाठी-डंडे से लैस गांव के ही कई अन्य महिलाओं और पुरुषों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. बुरी तरह मारने-पीटने के बाद जय मुर्मू को प्रधान के घर पर बंधक बना कर रखा गया.

आरोप है कि जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो उसे घसीट कर लाकर उसके घर के सामने फेंक दिया गया, जहां बाद में उसकी मौत हो गयी. इसके बाद ग्रामीणों ने पूरे परिवार को बंधक बना कर जय मुर्मू की लाश को ठिकाने लगाने का भी प्रयास किया. मगर, इस बीच पूर्व विधायक राजकुमार यादव और मीडिया के लोगों के वहां पहुंच जाने से वो सभी भाग खड़े हुए.

पूर्व विधायक राजकुमार यादव ने एसडीपीओ (SDPO) मुकेश महतो को फोन कर इस बात की सूचना दी. इसके बाद तिसरी पुलिस हरकत में आई और इंस्पेक्टर परमेश्वर लियांगी, थाना प्रभारी पीकू प्रसाद और लोकाय थाना प्रभारी पप्पू यादव दल-बल के साथ पहुंचे. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

वहीं, धनवार के पूर्व विधायक राजकुमार यादव ने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और वर्तमान विधायक बाबूलाल मरांडी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने इतने गंभीर मामले को रफा-दफा करने का प्रयास किया.

Tags: Crime News, Giridih news, Giridih Police, Jharkhand news, Mob lynching

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर