गिरिडीह के चर्चित चिलखारी नरसंहार में शामिल नक्सली सत्यनारायण साह जमुई से गिरफ्तार

साल 2007 में गिरिडीह के चिलखारी में फुटबॉल मैच के दौरान नक्सलियों ने पूर्व सीएम  बाबूलाल मरांडी के बेटे समेत 20 लोगों की हत्या कर दी थी.

साल 2007 में गिरिडीह के चिलखारी में फुटबॉल मैच के दौरान नक्सलियों ने पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी के बेटे समेत 20 लोगों की हत्या कर दी थी.

Giridih News: नक्सली सत्यनारायण साह को गिरिडीह के भेलवाघाटी थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर जमुई के राजोन गांव से गिरफ्तार किया.

  • Share this:
गिरिडीह. चर्चित चिलखारी नरसंहार (Chilkhari Massacre) और भेलवाघाटी के मुखिया पुत्र सुभाष बरनवाल हत्याकांड में फरार माओवादी सत्यनारायण साह को बिहार के जमुई जिले से गिरफ्तार कर लिया गया. सत्यनारायण साह को गिरिडीह के भेलवाघाटी थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर जमुई के राजोन गांव से गिरफ्तार किया.

माओवादी सत्यनारायण साह के बिहार के जमुई के चरकापत्थर के राजोंन गांव में होने की सूचना मिली थी. जिसके बाद भेलवाघाटी थाना प्रभारी प्रशांत कुमार ने चरकापत्थर थाना और सीआरपीएफ 215वी बटालियन के साथ माओवादी सत्यनारायण साह के घर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे जमुई से गिरिडीह के भेलवाघाटी थाना लाई, जहां पूछताछ के बाद उसे जेल भेज दिया गया.

2007 का चिलखारी नरसंहार

26 अक्टूबर 2007 की रात भाकपा माओवादियों ने गिरिडीह के चिलखारी फुटबॉल मैदान में बीस लोगों को गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिनमें झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरंडी के पुत्र अनूप मरंडी भी शामिल थे. चिलखारी में फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल के दिन आदिवासी यात्रा कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इसमें मुख्य अतिथि बाबूलाल मरंडी के अनुज नुनूलाल मरंडी थे. यात्रा कार्यक्रम के दौरान सोरेन ऑपेरा के कालाकारों का कार्यक्रम जारी था. इस दौरान भाकपा माओवादियों का दस्ता कार्यक्रम स्थल पर पहुंचकर मंच को कब्जे में ले लिया. कोई कुछ समझ पाता इससे पहले ही पुलिसिया वर्दी में माओवादी मंच पर चढ़ माइक से नुनूलाल मरांडी को सामने आने की चेतावनी दी और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. अगली पंक्ति में बैठे अनूप मरांडी, सुरेश हासंदा, अजय सिन्हा, आयोजक मनोज किस्कू, मुन्ना हेम्ब्रम चर्कू हेम्ब्रम, केदार मरांडी, अनिल अब्राहम मरांडी, उस्मान अंसारी, सुशील मरांडी समेत बीस लोगों की इस हमले में मौत हो गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज