Home /News /jharkhand /

मिसाल: दिहाड़ी मजदूर के बेटे रौनक देव का MRF पेस एकेडमी के लिए चयन, ग्लेन मैकग्रा देंगे ट्रेनिंग

मिसाल: दिहाड़ी मजदूर के बेटे रौनक देव का MRF पेस एकेडमी के लिए चयन, ग्लेन मैकग्रा देंगे ट्रेनिंग

रौनक देव का चयन आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स के नेट प्रैक्टिस में भी हुआ है.

रौनक देव का चयन आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स के नेट प्रैक्टिस में भी हुआ है.

Jharkhand Cricket : गिरिडीह जिले के होनहार बॉलर रौनक देव का चयन दुनिया के विख्यात एमआरएफ पेस एकेडमी के लिए हुआ है. इस एकेडमी में सिर्फ तेज गेंदबाजों को ट्रेनिंग दी जाती है.

    एजाज अहमद

    गिरिडीह. कहते हैं कि अगर आप में कुछ बड़ा कर गुजरने का जज्बा हो तो संसाधन भले ही सीमित हो आपको सफलता जरूर मिलती है. यह बात गिरिडीह के रौनक देव पर बिलकुल सटीक बैठती है. तभी तो एक किसान और दिहाड़ी मजदूर (Daily wage Worker) के बेटे रौनक ने अपनी प्रतिभा से न सिर्फ अपने परिवार का नाम रौशन किया है बल्कि पूरे जिले को उस पर गर्व है. दरअसल गिरिडीह (Giridih) जिले के होनहार बॉलर रौनक देव (Raunak Dev) का चयन दुनिया के विख्यात एमआरएफ पेस एकेडमी (MRF Pace Academy) के लिए हुआ है. इस एकेडमी में सिर्फ तेज गेंदबाजों को ट्रेनिंग दी जाती है. जहीर खान, इरफान पठान, मुनाफ पटेल, जवागल श्रीनाथ, ब्रेट ली, मिशेल स्टार्क, ग्लेन मैकग्रा जैसे महान गेंदबाजों ने भी यहीं से प्रशिक्षण प्राप्त किया है. प्रतिष्ठित एकेडमी में रौनक देव के चयन के बाद पूरे गिरिडीहवासियों में खुशी की लहर है.

    बताया जाता है कि रौनक देव का चयन आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स के नेट प्रैक्टिस में भी हुआ है. रौनक देव झारखंड प्रीमियर लीग भी खेल चुके हैं, जिसमें उन्हें इमर्जिंग प्लेयर का अवार्ड भी मिला है. इसके अलावा रौनक देव अंडर-19 मैच खेल रहे हैं और  2 मैचों में 3 विकेट लिए हैं. रौनक की इस कंसिस्टेंट परफॉर्मेंस की वजह से ही पेस एकेडमी के लिए उनका चयन हुआ है.

    ग्लेन मैकग्रा कर रहे हैं एकेडमी का संचालन 

    एमआरएफ पेस एकेडमी चेन्नई में स्थित है और फिलहाल इसका संचालन विश्व के प्रख्यात क्रिकेटर ग्लेन मैकग्रा के द्वारा किया जा रहा है. इस एकेडमी से जुड़ने के लिए देशभर के तेज गेंदबाज प्रयास में लगे रहते हैं. यहां खिलाड़ियों को तेज गेंदबाजी से जुड़े कई महत्वपूर्ण टिप्स दिये जाते हैं.

    किसान हैं रौनक के पिता, दिहाड़ी मजदूरी भी करते हैं

    बता दें कि रौनक देव खेतिहर परिवार से आते हैं. उनके पिता पंकज देव पेशे से एक किसान हैं और दिहाड़ी मजदूर करते हैं. अपने बेटे को लेकर पंकज देव बताते हैं कि रौनक शुरू से ही खेलने में तेज था. उन्हें हम लोगों ने अपनी इच्छा के अनुसार क्रिकेट खेलने दिया और जहां तक कोशिश रही आर्थिक और मानसिक रूप से सहयोग किया. हालांकि, रौनक के पिता का कहना है कि रौनक की सफलता के पीछे उनके क्रिकेट कोच संतोष तिवारी का हाथ है, जिन्होंने उसको हर परिस्थिति में सहयोग किया और आगे बढ़ाने का काम किया.

    Tags: Cricket news, Giridih news, Glenn McGrath, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर