• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • VIDEO: गिरिडीह में हाथियों का उत्‍पात, पहले घर और चारदीवारी तोड़ी, फिर फसल तबाह कर दी

VIDEO: गिरिडीह में हाथियों का उत्‍पात, पहले घर और चारदीवारी तोड़ी, फिर फसल तबाह कर दी

Giridih News: गिरिडीह के कोड़ाडीह में हाथियों के झुंड ने जमकर उत्‍पात मचाया. (न्‍यूज 18)

Giridih News: गिरिडीह के कोड़ाडीह में हाथियों के झुंड ने जमकर उत्‍पात मचाया. (न्‍यूज 18)

Elephant on Rampage: जंगली हाथियों के झुंड ने गिरिडीह के बगोदर थाना क्षेत्र के हेसला पंचायल के कोड़ाडीह में उत्‍पात मचाया है. स्‍थानीय लोगों का कहना है कि दर्जन भर हाथी दिन में जंगलों में रहते हैं और रात में गांवों में घुस आते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    एजाज अहमद

    गिरिडीह. झारखंड के गिरिडीह जिले में एक बार फिर से जंगली हाथियों ने तांडव मचाया है. हाथियों के झुंड ने एक घर का दरवाजा तोड़ दिया और आधा दर्जन चारदीवारी को जमींदोज कर दिया. इन उन्‍मत हाथियों का इतने से भी मन नहीं भरा तो खेतों में खड़ी धान, मक्‍के और अरहर की फसल को रौंद दिया. इससे ग्रामीणों में दहशत फैल गई. हाथियों के रौद्र रूप से स्‍थानीय लोगों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है.

    जानकारी के अनुसार, बगोदर थाना क्षेत्र के हेसला पंचायत के कोड़ाडीह में बीती देर रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया. एक घर के दरवाजे को तोड़कर घर में रखे अनाजों को हाथी चट कर गए. इसके अलावा 5 से 6 लोगों की चारदीवारी को भी तोड़ डाला. इसके अलावा मकई, अरहर एवं धान की फसलों को भी तबाह कर दिया. बगोदर प्रखंड में हाथियों के उत्‍पात के कई मामले सामने आ चुके हैं. ऐसी घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं. इससे जान और माल का व्‍यापक पैमाने पर नुकसान हो रहा है.

    महंगाई की मार: सुधा डेयरी ने बढ़ाए दूध के दाम, आज से देने होंगे ज्‍यादा पैसे; यहां देखें नई रेट लिस्‍ट

    मंगलवार सुबह प्रखंड प्रमुख मुस्ताक अंसारी, डीलर संघ के प्रखंड अध्यक्ष रामचंद्र यादव आदि कोड़ाडीह गांव पहुंचकर हाथियों द्वारा मचाए गए उत्पात का जायजा लिया. जनप्रतिनिधियों ने वन विभाग से प्रभावित ग्रामीणों को मुआवजा देने की मांग की है. प्रखंड प्रमुख ने बताया कि रात तकरीबन 10 बजे से 2 बजे तक गांव में हाथियों का उत्पात जारी रहा.

    इसकी सूचना वन विभाग को दी गई. इस पर वन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और फिर ग्रामीणों के सहयोग से हाथियों को गांव से बाहर खदेड़ा गया. उन्‍होंने बताया कि हाथियों की संख्या एक दर्जन है. ये हाथी दिन में जंगलों में डेरा जमाए रहते हैं और रात में गांव में तबाही मचाना शुरू कर देते हैं. हाथियों ने रामचंद्र यादव के दो चारदीवारी एवं अरहर की फसल, सुरेश यादव की चारदीवारी, संजय यादव की फसल, चेतलाल मिर्धा की चारदीवारी को नुकसान पहुंचाया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज