Home /News /jharkhand /

बिना कनेक्‍शन के ही बिजली विभाग ने भेजा हजारों रुपये का बिल, पूरे पंचायत में 50 लाख का बकाया

बिना कनेक्‍शन के ही बिजली विभाग ने भेजा हजारों रुपये का बिल, पूरे पंचायत में 50 लाख का बकाया

Bijli bill News: ग्रामीणों का कहना है कि उनके घरों में बिजली मीटर लगाए गए थे, लेकिन कनेक्‍शन नहीं दिया गया था. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Bijli bill News: ग्रामीणों का कहना है कि उनके घरों में बिजली मीटर लगाए गए थे, लेकिन कनेक्‍शन नहीं दिया गया था. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Godda Electricity News: बिजली विभाग के इस रवैये से ग्रामीणों में व्‍यापक पैमाने पर नाराजगी है. उनका कहना है कि जब बिजली कनेक्‍शन ही नहीं दिया गया तो बिल कैसे आ गया? नाराज ग्रामीणों ने इसे तुरंत वापस लेने अन्‍यथा बिजली कार्यालय में धरना-प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है.

अधिक पढ़ें ...

    गौरव कुमार झा

    गोड्डा. झारखंड के गोड्डा जिले में बिजली विभाग का अजीबोगरीब कारनामा सामने आया है. बिना कनेक्‍शन के ही लोगों को हजारों रुपये का बिजली बिल थमा दिया गया है. बिजली विभाग के इस रवैये से ग्रामीणा काफी परेशान हैं. उनमें विभाग के प्रति नाराजगी भी है कि जब उनका बिजली कनेक्‍शन ही नहीं है तो हजारों रुपये में बिल कैसे आ गया? सैकड़ों की संख्‍या में ग्रामीण बिजली विभाग के कार्यालय पहुंच कर आपत्ति जताई है. ग्रामीणों का कहना है कि बिजली बिल की इतनी भारी-भरकम राशि का भुगतान करना उनके लिए कठिन है.

    जानकारी के अनुसार, यह मामला गोड्डा जिला के मेहरमा प्रखंड के अमौर पंचायत का है. ग्रामीणों का आरोप है कि उनके घर में वर्षों पहले बिजली का मीटर बिजली विभाग द्वारा लगा दिया गया था, लेकिन बिजली कनेक्शन नहीं दिया गया था. इसके बाद अब अचानक से बिजली विभाग द्वारा सभी को एक बार में 10000 रुपये या उससे अधिक का बिल थमा दिया गया है. ग्रामीणों का कहना है कि इतनी बड़ी राशि का भुगतान करना कठिन है. इसको लेकर ग्रामीणों ने बिजली विभाग के खिलाफ नाराजगी जताई है.

    अजब-गजब: ‘भूत’ ने कराई जमीन की रजिस्‍ट्री, सरकारी बाबू ने दस्‍तावेज पर लगाया मुहर

     बिजली विभाग के रवैये से नाराज सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण एकजुट होकर विभाग के कर्मचारियों के प्रति नाराजगी जता रहे हैं. 10,000 रुपये से अधिक बकाया राशि वाले उपभोक्ताओं समेत पंचायत के मुखिया ने बताया कि अगर बिजली विभाग इस पर तत्परता से संज्ञान लेते हुए सभी का बिजली बिल माफ नहीं करता है तो ग्रामीणों के साथ बिजली विभाग कार्यालय के गेट पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा. बिना कनेक्शन किए बिजली बिल देने से पूरे पंचायत में लगभग 50,000,00 रुपए की बकाया राशि हो चुकी है. इतनी बड़ी राशि का भुगतान करना ग्रामीणों के लिए मुमकिन नहीं है.

    बिजली विभाग के SDO अमित भगत ने बताया कि उनके पास 3 जगहों का प्रभार है. उन्हें हजारों रुपये के बिजली बिल के बारे में सूचना मिली है. पंचायत के मुखिया को विभाग को आवेदन देने को कहा गया है. अगर कुछ गलत होगा तो बिजली विभाग उस त्रुटि को दूर करेगा.

    Tags: Electricity Bills, Godda news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर