Honor Killing: पोती के प्रेम-प्रसंग से परेशान दादा ने बंगाल से गोड्डा लाकर की हत्या

मृतका बंगाल के मालदा की रहने वाली थी और गांव के ही एक लड़के से प्यार करती थी.

Honor Killing: मृतका का प्रेम संबंध गांव के ही एक लड़के से था और परिवार के लोग इसका विरोध कर रहे थे. मृतका को प्रेमी से दूर करने के लिए घरवालों ने उसे गोड्डा के पथरगामा में फूफा के घर भेज दिया था. जहां दादा ने उसकी हत्या कर दी.

  • Share this:
    रिपोर्ट- गौरव झा

    गोड्डा. झारखंड के गोड्डा में ऑनर किलिंग (Honor Killing) का सनसनीखेज मामला सामने आया है. मालदा बंगाल की रहने वाली लड़की की हत्या उसी के घरवालों ने इसलिए कर दी, क्योंकि वह गांव के ही एक लड़के से प्यार करता थी. और उसी से शादी करना चाहती थी. जबकि घरवाले इस रिश्ते के खिलाफ जाकर लड़की की कहीं और शादी करवाना चाहते थे. लेकिन लड़की इसके लिए तैयार नहीं थी. लिहाजा दादा एवं अन्य घरवालों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी. पुलिस ने इस सिलसिले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

    दरअसल बीते 13 जुलाई को गोड्डा के जमजोड़ा (लतौना) तालाब में बोरी में बंद युवती की लाश मिली थी. लाश की सूचना मिलते ही पुलिस छानबीन में जुटी. लेकिन शव की शिनाख्त नही हो पाई. लिहाजा पुलिस ने शव को डिस्पोज कर दिया. लेकिन जांच जारी रखी. जांच में पता चला कि लड़की ओलकी कुमारी (18 वर्ष) बंगाल के मालदा की रहने वाली थी. गोड्डा पुलिस ने मालदा पुलिस से संपर्क साधा, तो पता चला मृतका मालदा के गजोल थानाक्षेत्र के केनबोना की रहने वाली थी. जिसके बाद पुलिस ने पूछताछ के लिए युवती के चाचा सुंदर यादव को गिरफ्तार किया.

    पूछताछ में सुंदर यादव ने बताया कि मृतका का प्रेम संबंध गांव के ही एक लड़का से था और परिवार के लोग इसका विरोध कर रहे थे. मृतका को प्रेमी से दूर करने के लिए घरवालों ने उसे गोड्डा के पथरगामा में फूफा संजीव कुमार यादव के घर भेज दिया. हत्या से 15 दिन पूर्व दादा नगदी यादव उसे यहां पहुंचाया था. इस बीच घरवालों ने उसकी शादी मिर्जाचौकी में दूसरे लड़के से तय कर दी. लेकिन मृतका इस शादी के लिए तैयार नहीं हो रही थी.

    पुलिस के मुताबिक 9 जुलाई की रात में दादा नगदी यादव, बड़े दादा जगदीश यादव के साथ मिलकर लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी. और शव को दो दिन तक घर रखा. 11 जुलाई को मृतका के पिता घनश्याम यादव, चाचा सुंदर यादव, सुधीर यादव और साकेत यादव शव को बोरे में बंद कर सुमो से लतौना तालाब के पास लाया और रात के अंधेरे में तालाब में फेंककर चले गये.

    पुलिस ने इस सिलसिले में तीन आरोपी सुंदर यादव, संजीव यादव और सुधीर यादव को गिरफ्तार कर लिया है. इनमें सुंदर यादव मालदा का रहने वाला है, जबकि संजीव और सुधीर गांधीग्राम पथरगामा गोड्डा के रहने वाले हैं. बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. पुलिस ने उस सुमो को जब्त कर लिया है, जिससे शव को तालाब के पास ले जाया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.