ग्रामीणों की फसल रौंदे जाने पर गोड्डा पहुंची JMM की 4 सदस्यीय जांच टीम

संबंधित मामले में झारखंड मुक्ति मोर्चा की 4 सदस्यीय जांच टीम गोड्डा के माली गांव पहुंची.

Ajeet Singh | News18 Jharkhand
Updated: September 16, 2018, 8:32 AM IST
ग्रामीणों की फसल रौंदे जाने पर गोड्डा पहुंची JMM की 4 सदस्यीय जांच टीम
ग्रामीणों की फसल रौंदे जाने पर गोड्डा पहुंची JMM की 4 सदस्यीय जांच टीम
Ajeet Singh | News18 Jharkhand
Updated: September 16, 2018, 8:32 AM IST
झारखंड के गोड्डा जिले में लग रहे पावर प्लांट को लेकर पिछले दिनों माली गंगटा गांव में आदिवासी किसानों की फसल को कंपनी द्वारा रौंद दिया गया था. इस मामले में शिकायत मिलने पर झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) की 4 सदस्यीय जांच टीम गोड्डा के माली गांव पहुंची, जहां वे ग्रामीणों से मुलाकात कर वहां की वस्तुस्थिति से अवगत हुए.

इस दौरान जांच दल में जेएमएम के वरिष्ठ नेता स्टीफन मरांडी, राजमहल सांसद विजय हांसदा और पार्टी केंद्रीय सचिव विनोद पाण्डेय मौजूद थे. जांच दल द्वारा गांव में भ्रमण करने के बाद किसान भवन में प्रेस वार्ता रखी गई. इसमें जानकारी देते हुए जांच दल के नेतृत्वकर्ता स्टीफन मरांडी ने कहा कि वर्तमान की सरकार द्वारा स्पेशल असेसमेंट इम्पैक्ट को भूमि अधिग्रहण से समाप्त किए जाने के बाद कंपनियों को बहुत बल मिला है. इसी की वजह से संबंधित कंपनियां अपनी मनमानी करती नजर आ रही हैं.

वहीं केंद्रीय सचिव सह झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी के प्रवक्ता विनोद पाण्डेय ने कहा कि जिस तरह से बहुमत का फायदा उठाकर विधेयकों (बिल) को वर्तमन की सरकार पास करा रही है. ऐसे में अगर हमारी सरकार सत्ता में आई तो इसमें सबसे पहले भूमि अधिग्रहण के काले कानून को बदलने का काम किया जाएगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर