Home /News /jharkhand /

omg jinhe nahi pata hai antigen aur negative ki spelling how security guard doing covid 19 test bruk

OMG: जिन्हें पता नहीं है Antigen और Negative की स्पेलिंग वह कर रहे हैं कोरोना टेस्ट

Jharkhand News: गोड्डा जिले में बस स्टैंड के निकट लगाई गई कोरोना जांच शिविर में अब लैब टेक्नीशियन की जगह गार्ड कोरोना जांच करने लग गए हैं. यहां जांच शिविर में ऐसी लापरवाही देखने को मिल रही जिससे देखकर हर कोई हैरान है. यहां एक गार्ड के भरोसे जांच शिविर चल रहा है.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट- गौरव कुमार झा 
गोड्डा. झारखंड के गोड्डा जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है, जहां कोरोना जांच की जिम्मेदारी एक गार्ड को दे दी गयी है. दरअसल गोड्डा जिले में बस स्टैंड के निकट लगाई गई कोरोना जांच शिविर में अब लैब टेक्नीशियन की जगह गार्ड कोरोना जांच करने लगे हैं. यहां जांच शिविर में ऐसी लापरवाही देखने को मिल रही है जिससे देखकर हर कोई हैरान है. यहां एक गार्ड के भरोसे जांच शिविर चल रहा है.


बता दें, जिस गार्ड को कोरोना जांच करने की जिम्मेदारी दी गयी है उसे Antigen और Negative की स्पेलिंग ठीक से नहीं पता है. अब ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते हैं, जिले में कोरोना रिपोर्ट में कितनी बड़ी लापरवाही देखने को मिलती होगी. वहीं इस बारे में जांच कर रहे गार्ड ने बताया कि वह 4 वर्षों से गार्ड का काम कर रहा हैं अब जरूरत पड़ी है तो कोरोना जांच भी कर दे रहा है.

महामारी रोग विशेषज्ञ ने दिया यह जवाब 

इधर गार्ड द्वारा की जा रही जांच के बारे में जब महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ उज्जवल कुमार सिन्हा से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि जब महामारी आई थी उस दौरान राज्य सरकार ने आदेश जारी किया था कि जो भी एएनएम और वार्ड बॉय हैं उन्हें भी जरूरत पड़ने पर सैंपल कलेक्शन के लिए लगा दिया जाए. लेकिन सवाल यह होता है कि अगर सैंपल कलेक्शन की जिम्मेदारी एएनएम और वार्ड बॉय को दी गई थी तो कोरोना जांच गार्ड कैसे कर रहे हैं.

Guard Doing Corona Test: झारखंड के गोड्डा जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है, जहां कोरोना जांच की जिम्मेदारी एक गार्ड को दे दी गयी है.

Guard Doing Corona Test: झारखंड के गोड्डा जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है, जहां कोरोना जांच की जिम्मेदारी एक गार्ड को दे दी गयी है.

निगेटिव की स्पेलिंग में भी गलती 

बता दें, इस गार्ड को निगेटिव की स्पेलिंग ठीक से नहीं पता है ऐसे में वह कोरोना टेस्ट रिपोर्ट में कैसे लोगों का रिजल्ट निगेटिवऔर पॉजिटिव लिखता होगा, यह बड़ा सवाल है. एक रिपोर्ट के अनुसार उसमें ठीक से निगेटिव की स्पेलिंग तक नहीं लिखी थी. अब ऐसे में गार्ड या लैब टेक्नीशियन कौन अशिक्षित हैं यह तो जांच का विषय है लेकिन इस तरह की व्यवस्था से जांच पर सवाल तो जरूर उठ रहा है.

कोरोना गाइडलाइंस का नहीं हो रहा पालन 
वहीं जांच के दौरान गार्ड कोरोना गाइडलाइंस का भी ठीक से पालन नहीं कर रहा था. उसके पास सेफ्टी के नाम पर भी कुछ भी नहीं था. उसने न तो मास्क लगाया था ना ही फेस शील्ड. इस तरीके की स्थिति में अगर पॉजिटिव मरीज मिलते हैं तो कोरोना का संक्रमण दूसरों के बीच फैलने का डर भी बरकरार रहता है.

Tags: Corona Guidelines, Corona Test Report, Jharkhand Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर