लाइव टीवी

10 लाख का इनामी नक्सली जोनल कमांडर भूषण यादव ने किया सरेंडर

News18 Jharkhand
Updated: September 19, 2019, 5:48 PM IST
10 लाख का इनामी नक्सली जोनल कमांडर भूषण यादव ने किया सरेंडर
10 लाख का इनामी नक्सली जोनल कमांडर भूषण यादव ने किया सरेंडर

भूषण यादव पर गुमला में 17, लातेहार में 5 और लोहरदगा में 2 मामले दर्ज हैं. इनमें से कुछ मामले पुलिस पर हमले से जुड़ा हुआ है.

  • Share this:
गुमला. 10 लाख का इनामी नक्सली जोनल कमांडर भूषण यादव ने डीआईजी अमोल विनुकांत होमकर के सामने आत्मसमर्पण कर दिया. इस दौरान एसपी अंजनी कुमार झा और डीसी शशि रंजन भी मौजूद रहे. सरेंडर के बाद डीआईजी ने इनामी नक्सली को दस लाख रुपया का चेक सौंपा. भूषण यादव गुमला, लोहरदगा और लातेहार में कई बड़ी नक्सली घटनाओं को अंजाम दे चुका है. पुलिस की माने तो उसके सरेंडर करने से इस इलाके में नक्सलियों की स्थिति कमजोर हुई है.

भूषण यादव बिहार-झारखंड स्पेशल एरिया कमिटी का जोनल कमांडर था. गुमला जिला पुलिस लाइन में उसने आत्मसमर्पण किया. डीआईजी एबी होमकर ने बताया कि 1995 से ही भूषण यादव नक्सली गतिविधि में शामिल रहा. उसके खिलाफ गुमला में 17, लातेहार में 5 और लोहरदगा में 2 मामले दर्ज हैं. इनमें से कुछ मामले पुलिस पर हमले से जुड़ा हुआ है. डीआईजी की माने तो भूषण यादव के सरेंडर से इलाके में माओवादियों की पकड़ कम होगी.

सरेंडर के बाद भूषण यादव ने कहा कि शुरुआती दौर में माओवादियों का एक सिद्धांत था, लेकिन अब केवल विकास में बाधा पहुंचाना और लेवी वसूलना काम रह गया है. इसी के चलते संगठन छोड़ने का मन बनाया. एक सवाल के जबाब में उसने कहा कि संगठन में महिलाओं व युवतियों का काफी शोषण हो रहा है. शीर्ष के नेता मौज-मस्ती का जीवन जी रहे हैं, जबकि उसके जैसे नक्सलियों की स्थिति काफी दयनीय है.

रिपोर्ट- सुशील कुमार

ये भी पढ़ें- नागा साधु की शरण में स्वास्थ्य मंत्री! सियासी स्वास्थ्य की सताई चिंता

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 19, 2019, 5:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...