लाइव टीवी

आदिवासी संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिए हम संकल्पित- सीएम रघुवर दास

News18 Jharkhand
Updated: October 31, 2019, 12:34 PM IST
आदिवासी संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिए हम संकल्पित- सीएम रघुवर दास
बदरी गांव में स्वर्गीय कार्तिक उरांव की प्रतिमा को नमन करते सीएम रघुवर दास और स्पीकर दिनेश उरांव

सीएम (CM Raghuvar Das) ने कहा कि कार्तिक उरांव (Kartik Oraon) के दिखाए रास्ते पर चलते हुए हमने झारखण्ड में जबरन या प्रलोभन देकर धर्मांतरण (Conversion) को अपराध घोषित किया है. इस कानून के तहत 4 साल की सजा और एक लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान है.

  • Share this:
गुमला. घाघरा प्रखंड के बदरी गांव में कार्तिक उरांव जतरा का आयोजन हुआ. इसमें बतौर मुख्य अतिथि सीएम रघुवर दास (CM Raghuvar Das) ने हिस्सा लिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि बाबा कार्तिक उरांव (Kartik Oraon) की याद में आयोजित इस मेले से झारखण्ड की संस्कृति समृद्ध हो रही है. यह कार्यक्रम आदिवासी समाज (Tribal Society) की परंपराओं से आने वाली पीढ़ी को अवगत कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है. सीएम ने कहा कि बाबा कार्तिक उरांव का सपना था कि झारखण्ड की संस्कृति और परम्परा अक्षुण्ण रहे, यहां का आदिवासी समाज शिक्षित बने. हमारी सरकार उनके सपने को पूरा करने के लिए दिन-रात मेहनत कर रही है.

सीएम ने कहा कि कार्तिक उरांव के दिखाए रास्ते पर चलते हुए हमने झारखण्ड में जबरन या प्रलोभन देकर धर्मांतरण को अपराध घोषित किया है. इस कानून के तहत 4 साल की सजा और एक लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान है. आदिवासी संस्कृति को अक्षुण्ण रखने के लिए हमारी सरकार कृतसंकल्पित है. कार्तिक बाबू इंजीनियर थे, चाहते तो आराम की जिंदगी बिता सकते थे, लेकिन उन्होंने झारखण्ड की पीड़ा समझी. मगर कांग्रेस ने उन्हें धोखा दिया. तीन बार कार्तिक बाबू सांसद बने, लेकिन कांग्रेस ने उनके प्रयासों पर पानी डालने का काम किया. कार्तिक बाबू ने अपनी किताब में लिखा था कि कांग्रेस को आदिवासी समाज कभी माफ नहीं करेगा. आज जब आप इतिहास खंगालेंगे तो पाएंगे कि गांव की गरीबी, किसानों की बदहाली, आदिवासियों की बेबसी, युवाओं की पीड़ा सब कांग्रेस पार्टी की ही देन है.

सीएम ने कहा कि कांग्रेस और जेएमएम ने बाबा कार्तिक उरांव की उपेक्षा की. आदिवासियों के विकास के नाम पर कांग्रेस और जेएमएम ने अपना विकास किया. झारखण्ड को गरीबी और बेरोजगारी के दलदल में फंसाकर ये लोग अपनी तिजोरी भरते रहे.

कार्यक्रम में सीएम के अलावा स्पीकर डॉ दिनेश उरांव और पद्मश्री अशोक भगत भी शरीक हुए. सीएम ने यहां मांदर का भी मजा लिया.

(ब्यूरो रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें- मंत्री सरयू राय के रसोइये को बीजेपी विधायक ने पीटा, केस दर्ज

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 12:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...