भरनो हादसे में इंसानियत दिखाने वाले युवकों को प्रशासन ने नहीं किया सम्मानित
Gumla News in Hindi

भरनो हादसे में इंसानियत दिखाने वाले युवकों को प्रशासन ने नहीं किया सम्मानित
भरनो हादसे में इन युवकों ने पेश की इंसानियत की मिशाल

प्रेम कुमार सिंह, प्रवेश कुमार मिश्रा व अंजनी कुमार दास ने सड़क दुर्घटना में घायल 16 लोगों को अपनी गाड़ी में अस्पताल पहुंचाया. हालांकि दुर्भाग्य रहा कि इनमें से 13 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई.

  • Share this:
आज जहां लोग सड़क दुर्घटना के शिकार घायलों को तड़पता छोड़ आगे निकल जाते हैं, वहीं हाल में हुए भरनो हादसे में तीन युवकों ने इंसानियत की मिशाल पेश की. प्रेम कुमार सिंह, प्रवेश कुमार मिश्रा व अंजनी कुमार दास ने सड़क दुर्घटना में घायल 16 लोगों को अपनी गाड़ी में अस्पताल पहुंचाया. हालांकि दुर्भाग्य रहा कि इनमें से 13 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई.

इन तीनों युवक के इस इंसानियत को पूरे शहर के साथ-साथ भरनो के बीडीओ, सीओ और थाना प्रभारी ने भी सराहा और तीनो को सम्मानित करने के लिए जिला प्रशासन को अनुशंसा पत्र लिखा. लेकिन प्रशासन की ओर से अब तक ना तो इन्हें सम्मानित किया गया और ना ही कोई प्रशंसा पत्र भेजे गये. ऐसे में सवाल उठता है कि प्रशासन की उस अपील को कौन सुनेगा और अमल करेगा, जिसमें ये कहा जाता है कि सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों की मदद के आगे आएं. प्रशासन खुद इस मामले को लेकर कितना संवेदनशील है, ये इन युवकों के केस से सामने आ जाता है.

बता दें कि बीते 14 जनवरी को गुमला के भरनो में तेज रफ्तार ट्रक ने एक ऑटो को टक्कर मार दी. जिससे ऑटो सवार 13 लोगों की मौत हो गई थी. यह भीषण हादसा नेशनल हाईवे-43 पर पलमाडीपा के पास हुआ था. मरने वाले सभी भरनो प्रखंड के जतरगड़ी गांव के थे. ये लोग बेड़ो प्रखंड के गड़गांव में छठी समारोह में हिस्सा लेकर घर लौट रहे थे. इसी दौरान पलमाडीपा के पास ट्रक ने सामने से आ रहे टेंपो को धक्का मार दिया था.



 
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading