नवजात पोते के दूध के लिए 80 साल की दादी ने बेच दी जमीन

बच्‍चे की दादी कलारा कुल्लू कहती हैं कि उन्‍हें अपनी परवाह नहीं है. पोते को जिंदा रखने के लिए जमीन बेच दी. इससे जो भी पैसे आए, उससे दूध का खर्च चल रहा है.

News18 Jharkhand
Updated: July 8, 2019, 12:52 PM IST
नवजात पोते के दूध के लिए 80 साल की दादी ने बेच दी जमीन
दादी कलारा कुल्लू कहती हैं कि मुझे अपनी परवाह नहीं है. पोते को जिंदा रखने के लिए जमीन बेच दी. जो भी पैसे आए, उससे दूध का खर्च चल रहा है.
News18 Jharkhand
Updated: July 8, 2019, 12:52 PM IST
गुमला में 80 साल की एक दादी ने पोते के दूध के लिए अपनी जमीन बेच दी. दरअसल, बेटे- बहू की मौत के बाद दादी पर दूधमुहे पोते की जिम्मेदारी आ गई. पोता कुपोषित था. इसलिए उसको कुपोषण से बाहर निकालने के लिए दादी ने अपनी जमीन बेच दी और दूध का खर्च चलाया. पोता अब स्वस्थ है.

अपनी नहीं, पोते की चिंता

दादी कलारा कुल्लू ने कहा, 'मुझे अपनी परवाह नहीं है. पोते को जिंदा रखने के लिए जमीन बेच दी. जो भी पैसे आए, उससे दूध का खर्च चल रहा है. आगे के लिए कहीं से कोई मदद मिल जाती तो अच्छा होता. मैं उम्र के अंतिम पड़ाव पर हूं. आगे इसको कौन देखेगा. इसको लेकर चिंतित हूं.'

पहले बेटे, फिर बहू की भी मौत

रायडीह थाना क्षेत्र के सनियाकोना गांव की रहने वाली कलारा कुल्लु ने कुछ महीने पहले बेटे को खो दिया. फिर कुछ दिन बाद पोते को जन्म देने के दौरान बहू की भी मौत हो गई. इसके बाद नवजात पोते की सारी जिम्मेदारी उन पर आ गई. घर में पोते के दूध के लिए पैसे नहीं थे. इसलिए दादी ने अपनी थोड़ी बची जमीन बेच दी. फिलहाल पोता गुमला सदर अस्पताल के कुपोषण केंद्र में भर्ती है. बताया जाता है कि पहले वह कुपोषित था, लेकिन अब स्वस्थ है.

पोते के स्वास्थ्य में सुधार 

कुपोषण केंद्र की प्रभारी नर्स की मानें तो जब दादी अपने पोते को लेकर यहां आई थीं, तब बच्‍चे की स्थिति काफी खराब थी. लेकिन, अब बहुत सुधार हुआ है. कुपोषण केन्द्र से निकलने के बाद बाल कल्याण समिति की ओर से बच्चे के पालन- पोषण की व्यवस्था की जाएगी.
Loading...

रिपोर्ट- सुशील कुमार

ये भी पढ़ें- हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में इसी सत्र से शुरू हो सकती है पढ़ाई

नदी पार करते वक्त आई बाढ़, बाल- बाल बचीं बीडीओ, बह गई सरकारी गाड़ी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 12:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...