सरकार की लापरवाही के कारण खंडहर में तब्दील हुआ अस्पताल भवन
Gumla News in Hindi

सरकार की लापरवाही के कारण खंडहर में तब्दील हुआ अस्पताल भवन
सरकारी की अनदेखी के कारण अस्पताल भवन खंडहर में तब्दील.

गुमला जिला में करोड़ों की लागत से बना अस्पताल भवन उपयोग के पूर्व ही पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो गया है. जिसका परिणाम है कि अस्पताल भवन अपराधियों का अड्डा और कचड़े का अम्बार बना हुआ है. जिसको लेकर स्थानीय लोगों में निराशा का माहौल है. गुमला जिला मुख्यालय से 25 किमी की दूरी पर गुमला और सिसई की सीमा पर नागफनी में कल्याण विभाग द्वारा करोड़ों की लागत से अस्पताल भवन का निर्माण किया गया है, लेकिन यह भवन अपने उपयोग होने से पूर्व ही पूरी तरह से खंडहर में तबदील हो गया है.

  • Share this:
गुमला जिला में करोड़ों की लागत से बना अस्पताल भवन उपयोग के पूर्व ही पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो गया है. जिसका परिणाम है कि अस्पताल भवन अपराधियों का अड्डा और कचड़े का अम्बार बना हुआ है. जिसको लेकर स्थानीय लोगों में निराशा का माहौल है. गुमला जिला मुख्यालय से 25 किमी की दूरी पर गुमला और सिसई की सीमा पर नागफनी में कल्याण विभाग द्वारा करोड़ों की लागत से अस्पताल भवन का निर्माण किया गया है, लेकिन यह भवन अपने उपयोग होने से पूर्व ही पूरी तरह से खंडहर में तबदील हो गया है.

अस्पताल भवन का निर्माण साल 2006-07 में तत्कालीन सिसई विधायक समीर उरांव की पहल निर्माण कार्य शुरू किया गया था. जिसके लिए स्थानीय लोगों ने अपनी जमीन दी थी. उसके बाद लम्बे समय के मेहनत के बाद भवन का निर्माण पूरा हुआ.

जिसका तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने उद्घाटन 2011 में किया, लेकिन महज उद्घाटन भर की ही खुशी स्थानीय लोगों को मिल सकी, लेकिन अस्पताल शुरू नहीं किया जा गया. जिसके कारण अस्पताल पूरी तरह बर्बाद हो गया. जो स्थिति सामने है उसको लेकर स्थानीय लोग कई तरह के सवाल खड़े कर रहे हैं.



अस्पताल भवन का निर्माण ग्रामीणों को चौबीस घंटे चिकित्सकों की सुविधा मिले इसके लिए किया गया था. अस्पताल भवन के साथ डॉक्टरों के लिए आवास का निर्माण किया गया था, लेकिन सरकार की लापरवाही के कारण अस्पताल परिसर पूरी तरह से खंडहर हो गया है.
गुमला में कार्यरत सिविल सर्जन डॉ. एसएन झा ने कहा कि निश्चित रूप से अस्पताल शुरू होता, तो आस-पास के लोगों को लाभ मिलता, लेकिन इसके शुरू ने होने से भवन लगातार बर्बाद हो रहा है. उनकी माने ये कल्याण विभाग का है. ऐसे में उन्हें इसको लेकर खास जानकारी नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading