पुलिस मुखबिर होने के शक पर नक्सलियों ने अगवा कर कारोबारी को मार डाला

गुरुवार शाम को नक्सलियों ने ब्रजेश को पहले अगवा किया और फिर उसकी हत्या कर दी.

News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2019, 4:18 PM IST
पुलिस मुखबिर होने के शक पर नक्सलियों ने अगवा कर कारोबारी को मार डाला
पुलिस मुखबिर होने के शक पर हत्या
News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2019, 4:18 PM IST
गुमला के बिशुनपुर में नक्सलियों ने पुलिस मुखबिर होने के शक पर कारोबारी ब्रजेश साहू की हत्या कर दी. गुरुवार शाम को नक्सलियों ने ब्रजेश को पहले अगवा किया और फिर उसकी हत्या कर दी. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन की. घटना को लेकर कटिया गांव में दहशत व्याप्त है.

अगवा कर मारी तीन गोलियां 



पत्नी मिथिला देवी के मुताबिक मृतक अपनी मुर्गे की दुकान पर था. उसी समय तीन नक्सली आए और उसको अगवा कर अपने साथ ले गये. बाद में कटिया स्कूल के पास ब्रजेश की हत्या कर दी. नक्सलियों ने उसे तीन गोलियां मारी. उससे पहले पास खड़े बीड़ी पत्ते से लदे ट्रक को नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया.

पर्चे में पुलिस मुखबिर होने का जिक्र

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस को मौके से नक्सलियों का पर्चा बरामद हुआ. इसमें ब्रजेश साहू को पुलिस मुखबिर बताते हुए सजा देने की बात कही गई है. पर्चे में नक्सलियों के खिलाफ मुखबिरी करने वालों के लिए कड़ी चेतावनी दी गई है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

बीड़ी पत्ते से लदे ट्रक में लगाई आग 

ब्रजेश साहू को मौत के घाट उतारने से पहले माओवादियों ने बीड़ी पत्ते से लदे ट्रक में आग लगा दी. इससे ट्रक धू-धू कर पूरा जल गया. बता दें कि लंबे वक्त के बाद नक्सलियों ने गुमला के बिशुनपुर में धमक दिखाई है. इससे इलाके में खौफ का माहौल है.
Loading...

इनपुट- सुशील कुमार

ये भी पढ़ें- NRS की घटना को लेकर झारखंड के 15 सौ जूनियर डॉक्टर्स हड़ताल पर, ओपीडी सेवा प्रभावित

घाटशिला में 45 सौ मजदूरों की लगातार चौथे दिन हड़ताल जारी, त्रिपक्षीय वार्ता विफल

 

 

 

 

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...