झारखंड: बेटियों को उड़ान भरने के लिए मिले नए पंख, खुला नया नर्सिंग कॉलेज

गुमला के इस नर्सिंग कॉलेज से निकली छात्राओं को देश के नामी गिरामी हॉस्पिटल में प्लेसमेंट मिलेगा. जिससे गरीब छात्राएं अपने सपनों को तो साकार करेगी ही साथ ही अपने परिवार का आर्थिक आधार भी बनेगी.

News18 Jharkhand
Updated: September 4, 2019, 12:14 PM IST
झारखंड: बेटियों को उड़ान भरने के लिए मिले नए पंख, खुला नया नर्सिंग कॉलेज
गुमला में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नर्सिंग कॉलेज का उद्घाटन किया
News18 Jharkhand
Updated: September 4, 2019, 12:14 PM IST
गुमला. झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री रघुवर दास (Chief Minister Raghuvar Das) ने सूबे की बेटियों को एक बड़ा तोहफा देते हुए गुमला (Gumla) में नर्सिंग कॉलेज (Nursing college) का उद्घाटन (Inaugaration) किया.  कॉलेज में इसी सत्र से पढ़ाई भी शुरु हो जाएगी. एक बैच में 120 छात्राओं को दाखिला दिया जाएगा. दो साल की नर्सिंग डिग्री हासिल करने के बाद छात्राओं को प्लेसमेंट (Placement) मिलेगा.

मुख्यमंत्री ने की महिला शक्ति की तारीफ    

कौशल नर्सिंग कॉलेज के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सूबे के महिला शक्ति की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए कृत संकल्पित है और इसको लेकर कई तरह की योजनाएं चला रही है. उसी कड़ी में महिलाओं को स्वालम्बी बनाने की दिशा में यह नर्सिंग खोला गया है. यहां से हर साल 120 छात्राएं पढ़ कर निकलेंगी और देश के नामी गिरामी अस्पतालों में उनका प्लेसमेंट कराया जायेगा. मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि सूबे में इस तरह के 9 और नर्सिंग कॉलेज खोले जाएंगे.

नर्सिंग कॉलेज, Nursing college
मुख्यमंत्री रघुवर दास के साथ नर्सिंग की छात्राएं


नक्सल प्रभावित इलाकों की छात्राओं के लिए उम्मीद की किरण

इस नर्सिंग कॉलेज के खुलने से सुदूरवर्ती और अतिनक्सल प्रभावित इलाकों से आयी बच्चियों को अब अपने सपने साकार होते नजर आ रहे हैं. बच्चियों की आंखों की चमक देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये बच्चियां कितनी खुश है. अब उनके सपनों को पंख लग गए.

पहले इलाके में कॉलेज नहीं होने और गरीबी के कारण यहां की लड़कियां इंटर के बाद पढ़ाई छोड़ देती थीं लेकिन अब वे नर्सिंग की ट्रेनिंग ले कर जरुरतमंदों की सेवा कर सकेंगी. यही नहीं अपने सपनों को साकार करने के साथ ही अपने परिवार की आर्थिक मदद भी करेंगी.
Loading...

(गुमला से सुशील के साथ मनोज की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें- तंत्र-मंत्र के संहेद में भतीजे ने चाचा को पीट-पीटकर मार डाला

ये भी पढ़ें- ऑनलाइन पबजी में मिली हार से डिप्रेशन में गया छात्र, ले जाना पड़ा अस्पताल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 12:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...