लाइव टीवी
Elec-widget

झारखंड चुनाव: कांग्रेस एंड कंपनी ने सियासत के लिए नक्सलियों का इस्तेमाल किया- PM मोदी

News18 Jharkhand
Updated: November 25, 2019, 4:00 PM IST
झारखंड चुनाव: कांग्रेस एंड कंपनी ने सियासत के लिए नक्सलियों का इस्तेमाल किया- PM मोदी
पीएम मोदी ने गुमला के पुगु हवाईअड्डा मैदान में चुनावी रैली को संबोधित किया

पीएम (PM Narendra Modi) ने कहा कि कांग्रेस और उसके साथियों ने राम जन्मभूमि विवाद पर राजनीति की. समाज को बांटा. वोट बैंक की खातिर इस मुद्दे को लटकाए रखा.

  • Share this:
गुमला. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मेदिनीनगर के बाद गुमला के पुगु हवाईअड्डा मैदान में चुनावी सभा (Election Rally) को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि 2014 और आज के गुमला में काफी अंतर है. तब यहां नक्सलवाद, असुरक्षा और हिंसा के मुद्दे छाये रहते थे. लेकिन आज राज्य सरकार और सुरक्षा बलों ने इस क्षेत्र को भय के वातावरण से करीब-करीब मुक्त कर दिया है. नक्सलवाद की चुनौती को खत्म करने में हमारी सरकारें इसलिए सफल हो पा रही हैं, क्योंकि हमारी नीयत साफ है. कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारों की नीति और नीयत दोनों में खोट था. वे नक्सलवादियों को अपनी राजनीति के लिए उपयोग भी करते थे और फिर उनके खिलाफ लड़ाई का दिखावा भी करते थे.

'पहले की सरकारों ने गुमला की अनदेखी की'

पीएम ने कहा कि पहले की सरकारें गुमला जिले को नक्सल प्रभावित मानकर उसके हाल पर छोड़ दिया था. इसे पिछड़ा मानकर यहां के अफसरों को और भी हताश किया था. लेकिन भाजपा ने गुमला जिले को उन 112 जिलों में शामिल किया, जो विकास की गति में थोड़ा पीछे रह गए. इन जिलों को पिछड़ा नहीं, आकांक्षी जिला कहा गया. यहां निवेश आए, रोज़गार के नए अवसर बनें, युवाओं को बाहर न जाना पड़े, ये हमारी कोशिश है. लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों ने झारखंड को बदनाम करने की कोशिश की.

'2024 तक देश के हर घर में होगा जल'

पीएम ने कहा कि भाजपा का ये संकल्प है कि 2024 तक देश के हर घर को जल से जोड़ना है. जैसे हर घर में शौचालय बनाने का काम सफलता से पूरा किया गया है, उसी तरह हर घर तक जल पहुंचाया जाएगा. इस मिशन का बहुत बड़ा लाभ आदिवासी समाज को मिलने वाला है. झारखंड में गरीबों के लिए घर इतनी तेजी से इसलिए बन पाए, क्योंकि रांची और दिल्ली में डबल इंजन सरकार थी. किसानों के साथ-साथ जंगलों पर आश्रित आदिवासी भाई-बहनों का जीवन स्तर ऊंचा उठाने के लिए भी बीजेपी सरकार पूरे समर्पण भाव से काम कर रही है. जनजातीय समाज के बच्चों और युवाओं की पढ़ाई और कौशल विकास और एकलव्य मॉडल स्कूल का बड़ा नेटवर्क स्थापित किया जा रहा है. भाजपा सरकारों ने हमेशा से आदिवासी नेतृत्व और उनकी प्रतिभा को आगे बढ़ाया है. ये सिर्फ राजनीतिक प्रतिनिधित्व तक ही सीमित नहीं है, बल्कि संवैधानिक व्यवस्थाओं में भी आदिवासी समुदाय को भाजपा ने अवसर दिया है.

'कांग्रेस ने राम मंदिर पर सियासत की'

पीएम ने कहा कि वनों में रहने वालों की प्रेरणा ने तो प्रभु श्रीराम को भी मार्ग दिखाया था. राम जब अयोध्या में तो राजकुमार राम थे और जब 14 साल के वनवास के बाद अयोध्या लौटे, तो मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम बने. यह इसलिए क्योंकि 14 साल उन्होंने वन में आदिवासियों के बीच गुजारे थे. कांग्रेस और उसके साथियों ने राम जन्मभूमि विवाद पर राजनीति की. समाज को बांटा. वोट बैंक की खातिर इस मुद्दे को लटकाए रखा. देश का हर शख्स यह याद रखेगा कि कैसे कांग्रेस ने इस विषय पर सियासत की.
Loading...

ये भी पढ़ें- Jharkhand Assembly Elections 2019: PM मोदी ने भी उठाया राम मंदिर का मुद्दा, बोले- कांग्रेस ने वोट बैंक के लिए लटकाए रखा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 3:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...