• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • गुमला के ग्रामीणों को मिली राहत, अब हर घर में पहुंच रहा है शुद्ध पेयजल

गुमला के ग्रामीणों को मिली राहत, अब हर घर में पहुंच रहा है शुद्ध पेयजल

गुमला में पेयजल

गुमला में पेयजल

राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करायी गई राशि से गुमला जिले के कई इलाको में पीने के पानी की व्यवस्था को लेकर काफी सक्रियता के साथ काम किया जा रहा है, जिसका परिणाम अब सामने आने लगा है. जिले के रायडीह, पालकोट, बिशुनपुर, डुमरी, घाघरा और चैनपुर इलाको में ग्रामीण पेयजल आपुर्ती योजना का लाभ मिलना शुरू हो चुका है.

  • Share this:
झारखंड के गुमला जिले के ग्रामीण इलाकों में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था को लेकर किए गए कार्यों के परिणाम अब दिखने लगे हैं. जिले के कई इलाकों में कल तक जहां ग्रामीण दो बूंद पानी के लिए तरस रहे थे, वहीं आज उन लोगों को काफी आसानी से पेयजल उपलब्ध हो रहा है. समय में पेयजल मिलने से अब ग्रामीणों का जीवन काफी आसान नजर आ रहा है. ग्रामीण इसको लेकर सरकार का आभार व्यक्त कर रहे हैं, वहीं डीसी शशि रंजन जल्द अन्य इलाको में भी इसी तरह की व्यवस्था लागू करने का भरोसा दिया है.

राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करायी गई राशि से गुमला जिले के कई इलाको में पीने के पानी की व्यवस्था को लेकर काफी सक्रियता के साथ काम किया जा रहा है, जिसका परिणाम अब सामने आने लगा है. जिले के रायडीह, पालकोट, बिशुनपुर, डुमरी, घाघरा और चैनपुर इलाको में ग्रामीण पेयजल आपुर्ती योजना का लाभ मिलना शुरू हो चुका है. इससे अब महिलाओं का अब पानी के लिए ना तो लंबी दूरी तय करनी पड़ रही है ना ही प्रदूषित पानी पीना पड़ रहा है. सरकार द्वारा बनाए गए शौचालयों का भी अब पूरी तरह से उपयोग हो रहा है, जिससे ग्रामीण महिलाएं काफी खुश नजर आ रही है.

यह भी पढ़ें-  यहां के लोगों को जलमीनार बनने से मिला स्वच्छ पेयजल, अब बुझेगी प्यास

जिले के उपायुक्त शशि रंजन ने कहा कि उनकी ओर से सभी वैसे गांवों को चिन्हित किया गया है, जहां के लोगों को पेयजल समस्या होती थी. उन गांवों में प्राथमिकता के आधार पर जलापूर्ती योजना के माध्यम से पानी पहुंचाने का काम किया जा रहा है. डीसी शशि रंजन ने कहा कि पाट इलाको में रहने वाले आदिम जनजातियों के क्षेत्र में सौलर ऊर्जा के माध्यम से पानी उपलब्ध करायी जाने की योजना पर काम किया जा रहा है. गुमला के लोगों ने लंबी समय से पानी की किल्लत झेल रही काफी बड़ी आबादी को इस योजना का लाभ मिल रहा है. इस योजना से सबसे ज्यादा ग्रामीण महिलाओं को सबसे अधिक राहत मिली है.

यह भी पढ़ें-  झारखंड में पेयजल का संकट होना तय !

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज