लाइव टीवी

छुट्टी से लौटे एसआई ने थाने के बैरक में लगाई फांसी

News18 Jharkhand
Updated: April 15, 2019, 3:00 PM IST
छुट्टी से लौटे एसआई ने थाने के बैरक में लगाई फांसी
मृतक एसआई अनिल मुंडा

एसडीपीओ नागेश्वर सिंह ने कहा कि घटना पुलिस परिवार के लिए दु:खद है. अनिल का व्यवहार काफी कुशल था. उन्होंने आत्महत्या किन कारणों से की, इसका पता नहीं चल पाया है.

  • Share this:
गुमला थाने में पदस्थापित प्रशिक्षु एसआई अनिल सिंह मुंडा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उनका शव थाने के ऊपर बैरक से बरामद किया गया. शव तौलिया के सहारे पंखे से लटका हुआ मिला. हालांकि एसआई की आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है.

जानकारी के मुताबिक अनिल मुंडा शाम चार बजे तक थाने में थे. इसके बाद अपने बैरक चले गए. शाम 6 बजे साथी सुखराम बैरक का दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई. इसकी तत्काल जानकारी उन्होंने मुंशी कमल किशोर व अन्य पुलिसकर्मियों को दी. मुंशी, एएसआई समेत तमाम पुलिसकर्मी बैरक के पास पहुंचे. इसके बाद दरवाजा के बीच से कमरे के अंदर झांक कर देखा, तो अनिल सिंह की लाश को फंदे से झूलते पाया. दरवाजा तोड़कर पुलिसकर्मी अंदर घुसे और शव को उताराकर सदर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने एसआई को मृत घोषित कर दिया.

आशंका जताई गई कि परिवारिक विवाद के कारण अनिल ने इहलीला समाप्त कर ली. एसडीपीओ नागेश्वर सिंह ने कहा कि घटना पुलिस परिवार के लिए दु:खद है. अनिल का व्यवहार काफी कुशल था. उन्होंने आत्महत्या किन कारणों से की, इसका पता नहीं चल पाया है. मृतक के चचेरे भाई व सदर थाना में ही तैनात कांस्टेबल अजीतर सिंह मुंडा ने बताया कि अनिल मूलरूप से सिल्ली मुरी के रहने वाले थे. उनकी दो वर्ष पूर्व बुंडू की युवती से शादी हुई थी. दोनों को डेढ़ वर्ष की बेटी है. अनिल 2011 में सिपाही बने थे और 2018 में दारोगा की परीक्षा पास की थी. इसके बाद तीन माह पूर्व से गुमला थाना में प्रशिक्षु एसआई के तौर पर कार्यरत थे.

गुमला थाने के जवानों ने बताया कि पांच दिन पूर्व अनिल छुट्टी पर अपने घर गए थे. शनिवार को घर से वापस ड्यूटी पर लौटे थे. शनिवार को रामनवमी होने के कारण रात के एक बजे तक डयूटी की. जवानों के मुताबिक अनिल किसी प्रकार से परेशानी में नजर नहीं आ रहे थे. रविवार को सभी से हंसी- मजाक करने के बाद शाम चार बजे वे अपने बैरक चले गये. देर शाम बैरक में उनकी लाश पंखे से लटकी मिली.

रिपोर्ट- सुशील कुमार

ये भी पढ़ें- गिरिडीह के धरपहरी जंगल में मुठभेड़ में तीन नक्सली ढेर

पूर्व मंत्री योगेन्द्र साव ने रांची कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गये जेल
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 15, 2019, 1:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...