गुमला: वज्रपात की चपेट में आने से दो लड़कियों की मौत, बुजुर्ग झुलसे

बिहार में मंगलवार को हुए वज्रपात में 20 लोगों की मौत (सांकेतिक तस्वीर)
बिहार में मंगलवार को हुए वज्रपात में 20 लोगों की मौत (सांकेतिक तस्वीर)

मंगलवार दोपहर अचानक मौसम ने करवट बदली और जोरदार बारिश होने लगी. बारिश (Rain) से बचने के लिए दोनों सहेलियां खेत से भागकर सोमा उरांव के पास उनके छाते के अंदर चली गयीं. इस दौरान ठनका (Thunderbolt) गिर गया.

  • Share this:
गुमला. जिले के भरनो प्रखंड के बड़का तुरिअम्बा गांव में वज्रपात (Thunderbolt) की चपेट में आने से दो लड़कियों की मौत हो गई. वहीं एक वृद्ध बुरी तरह से झुलस गये. घटना के बाद ग्रमीणों ने तीनों को समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, भरनो पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने दोनों लड़कियों को मृत घोषित कर दिया. 65 वर्षीय बुजुर्ग सोमा उरांव का इलाज अस्पताल में चल रहा है. 16 वर्षीय पुत्री रूपू कुमारी लोहरमाइन उरांव और 13 वर्षीय प्रियंका कुजूर इमिल कुजुर की बेटी थी.

खेत में काम कर रही थी दोनों सहेली

जानकारी के अनुसार रूपू और प्रियंका खेत में फ्रेंचबीन तोड़ रही थी. पास में सोमा उरांव जानवर चरा रहे थे. मंगलवार दोपहर अचानक मौसम ने करवट बदली और जोरदार बारिश होने लगी. बारिश से बचने के लिए दोनों सहेलियां सोमा उरांव के पास उनके छाते के अंदर चली गयीं. इस दौरान ठनका गिरने से दोनों लड़कियों की मौत हो गयी. जबकि सोमा बुरी तरह झुलस गये. अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने दोनों लड़कियों को मृत घोषित कर दिया.



पीड़ित परिवार को मिलेगा मुआवजा 
घटना की सूचना पर बीडीओ विशाल कुमार पुलिस के साथ हॉस्पिटल पहुंचे. और परिवारवालों का ढांढ़स बंधाया. बीडीओ ने कहा कि सरकारी प्रावधानों के अनुसार दोनों छात्राओं के परिजनों को मुआवजा दिलाया जाएगा. पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल, गुमला भेज दिया. तुरिअम्बा गांव में इससे पहले भी वज्रपात की चपेट में आने से दो लड़कियों की मौत हुई थी.

रिपोर्ट- सुशील कुमार

ये भी पढ़ें- जमशेदपुर: रात में घर से भागे, सुबह पेड़ से लटके मिले प्रेमी जोड़े के शव

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज