बिहार-झारखंड सीमा पर मुठभेड़ में कुख्यात नक्सली ढेर, लखीसराय से एक गिरफ्तार
Patna News in Hindi

बिहार-झारखंड सीमा पर मुठभेड़ में कुख्यात नक्सली ढेर, लखीसराय से एक गिरफ्तार
लखीसराय में कुख्यात नक्सली शंकर यादव गिरफ्तार

सर्च ऑपरेशन में कुख्यात नक्सली लालदास मोची उर्फ मुकेश का शव एसटीएफ ने बरामद किया. शव के साथ एक इंसास रायफल और 125 जिंदा कारतूस भी मिला है.

  • Share this:
बिहार में नक्सलियों के खिलाफ एसटीएफ को दो बड़ी कामयाबी हासिल हुई. पहला बिहार-झारखंड बॉर्डर पर एसटीएफ ने सर्च ऑपरेशन में कुख्यात नक्सली लालदास मोची को ढेर कर दिया. वहीं, लखीसराय में एसटीएफ ने एरिया कमांडर शंकर यादव को नक्सल प्रभावित पीरीबाजार थाना क्षेत्र के लठिया कोल जंगल से गिरफ्तार कर लिया.

पहली घटना चौपारण (हजारीबाग, झारखंड) थाना क्षेत्र में बिहार से सटे इलाके में हुई. यहां प्रद्युम्न शर्मा के दस्ता से जुड़े नक्सलियों और एसटीएफ के बीच मुठभेड़ हुई. इसके बाद चलाए गए सर्च ऑपरेशन में कुख्यात नक्सली लालदास मोची उर्फ मुकेश का शव एसटीएफ ने बरामद किया. शव के साथ एक इंसास रायफल और 125 जिंदा कारतूस भी बरामद गिया गया है. मुकेश पटना जिले के दनारा के भगवानपुर का निवासी था और वह 17 नक्सली वारदातों को अंजाम दे चुका था.

naxalit encounter
बिहार-झारखंड सीमा पर हुई मुठभेड़ की एसटीएफ ने जानकारी दी.




वहीं लखीसराय से गिरफ्तार नक्सली की गिरफ्तारी भी बड़ी कामयाबी मानी जा रही है. एसपी सुशील कुमार के मुताबिक गिरफ्तार नक्सली पर एक दर्जन से ज्यादा संगीन मामले दर्ज है.इस पर लखीसराय, जमुई और मुंगेर में काफी सारे मामले दर्ज हैं, एसपी ने बताया कि नक्सली शंकर यादव छुट्टियों में अपने घर आया हुआ था. इसी दौरान पुलिस को इसकी भनक लगी और इसे गिरफ्तार कर लिया गया.



इस ऑपरेशन में जमालपुर एसटीएफ और कोबरा 207 बटालियन की टीम शामिल थी.शंकर यादव पिछले पांच सालों से नक्सली संगठन मे सक्रिय था और हार्डकोर नक्सली परवेज की टीम मे शामिल था. हाल के दिनों में यह युवाओं को नक्सल संगठन में शामिल करवाने का काम करता था.

रिपोर्ट- अमित कुमार/राकेश कुमार

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading