Assembly Banner 2021

हजारीबाग: भूत उतारने आए ओझा की बकरे के साथ चढ़ा दी बलि

कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन जारी है जिस वजह से कई देशों में घरों के भीतर अपराध की घटनाएं घटी
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन जारी है जिस वजह से कई देशों में घरों के भीतर अपराध की घटनाएं घटी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Jharkhand: दिल दहला देने वाली घटना के तुरंत बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

  • Share this:
हजारीबाग. झारखंड के हजारीबाग से एक बेहद सनसनीजेख मामला सामने आया है. जहां एक शख्‍स ने भूत उतारने आए ओझा की बकरे के साथ बलि चढ़ा दी. दरअसल, यह पूरा मामला हजारीबाग के अंतर्गत आने वाले बरकट्ठा इलाके का है. पुलिस ने हत्‍या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी की पहचान सुरेश कुमार के रूप में हुई है. वहीं, पुलिस वारदात का शिकार बने ओझा भोला महतो के शव को अपने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है.

सूत्रों के अनुसार, आरोपी सुरेश यादव के परिजनों को आशंका थी कि उसे कोई प्रेतात्‍मा परेशान कर रही है. इस प्रेतात्‍मा से मुक्ति दिलाने के लिए परिजनों ने 65 वर्षीय ओझा भोला महतो को बुलाया था. तंत्र क्रिया के दौरान, भोला महतो ने सुरेश से बकरे की बलि देने के लिए कहा. फरसे से बकरे की बलि देने के बाद, सुरेश चिल्‍लाने लगा और बोला कि भोला महतो ने ही उसके ऊपर प्रेतक्रिया की है. कोई कुछ समझ पाता इससे पहले ही सुरेश ने फरसे से ओझा भोला महतो की गर्दन पर पार कर दिया. भोला महतो की मौके पर ही मौत हो गई.

'हिन्‍दुस्‍तान' में प्रकाशित खबर के अनुसार, वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी सुरेश मौके से फरार हो गया. वारदात की जानकारी मिलने के बाद, मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया. वहीं, भोला महतो के बेटे लालधन के बयान के आधार पर एफआईआर दर्ज कर आरोपी सुरेश यादव की तलाश शुरू कर दी. आरोपी सुरेश को देर शाम बगोदर थाना क्षेत्र के घरगुल्‍ली से गिरफ्तार कर लिया गया है.

ये भी पढ़ें- COVID-19: झारखंड में 7 नए मामले, 41 हुई प्रदेश में संक्रमितों की संख्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज