Assembly Banner 2021

41 साल बाद कोनार सिंचाई परियोजना का होगा शुभारंभ, 62 हजार हेक्टेयर खेतों को मिलेगा पानी

41 साल बाद कोनार सिंचाई परियोजना का शुभारंभ होगा

41 साल बाद कोनार सिंचाई परियोजना का शुभारंभ होगा

मुख्यमंत्री रघुवर दास बुधवार को हजारीबाग के बिष्णुगढ़ में इसका उद्घाटन करेंगे. इस परियोजना से तीन जिले हजारीबाग, बोकारो और गिरिडीह के 62 हजार 895 हेक्टेयर खेतों को पानी मिल पाएगा.

  • Share this:
41 साल बाद झारखंड की महत्वाकांक्षी कोनार सिंचाई परियोजना (Konar Irrigation Project) का शुभारंभ होने वाला है. मुख्यमंत्री रघुवर दास (CM Raghuvar Das) बुधवार को हजारीबाग के बिष्णुगढ़ में इसका उद्घाटन करेंगे. 28 अगस्त से इसका लाभ किसानों को मिलने लगेगा. खेतों तक पानी पहुंचने लगेगा. इस परियोजना से तीन जिले हजारीबाग, बोकारो और गिरिडीह के 62 हजार 895 हेक्टेयर खेतों को पानी मिल पाएगा.

3 जिलों के 95 गांव को मिलेगा लाभ

कोनार सिंचाई परियोजना से हजारीबाग के विष्णुगढ़ प्रखंड के 20 गांव, गिरिडीह के डुमरी और बगोदर प्रखंड के 62 गांव और बोकारो के नावाडीह प्रखंड के 3 गांवों के किसानों को सीधा फायदा पहुंचेगा.



राज्य का यह पहला सिंचाई परियोजना है, जिसके लिए 6 किलोमीटर की सुरंग बनाई गई है. वर्तमान में कोनार टनल में पानी छोड़े जाने से 26 गांवों के 3401 हेक्टेयर भूमि को सिंचाई की सुविधा मिल पाएगी.
हालांकि इतने लंबे समय में रख- रखाव के अभाव में कई जगहों पर नहर टूट गये हैं और इसमें मिट्टी भी भर गये हैं. इसे अब सुधारने का काम किया जाएगा, ताकि परियोजना का लाभ किसानों को मिल सके.

1978 में रखी गई थी आधारशिला 

इस परियोजना की आधारशिला 1978 में रखी गई थी. बिहार के तत्कालीन राज्यपाल जगन्नाथ कौशल ने शिलान्यास किया था. तब इसकी अनुमानित लागत 12 करोड़ बताई गई थी. 41 सालों में यह बढ़कर 2176. 25 सौ करोड़ पहुंच गई.

हजारीबाग डीसी भुवनेश प्रताप सिंह मानते हैं कि इस योजना को पूर्ण होने में काफी समय लग गया है. लेकिन वर्तमान में केन्द्र और राज्य सरकार जिस प्रकार से किसानों के लिए योजनाएं चला रही हैं. ऐसे में यह सिचाई योजना मिल का पत्थर साबित होग.

रिपोर्ट- राकेश कुमार

ये भी पढ़ें- झारखंड विधानसभा नियुक्ति घोटाला: 8 साल बाद दो अफसरों को जबरन रिटायरमेंट

मंत्री बोले- धारा 370 हटने पर मर्माहत थे वीसी, इसलिए राष्ट्रवादी छात्रों ने किया विरोध

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज