अपना शहर चुनें

States

झारखंड विधानसभा चुनाव: CPI ने 16 में से 7 सीटों के लिए तय किये उम्मीदवार, पढ़ें लिस्ट

सीपीआई नेता भुवनेश्वर मेहता ने महागठबंधन नहीं बनने को लेकर कांग्रेस को जिम्मेवार ठहराया
सीपीआई नेता भुवनेश्वर मेहता ने महागठबंधन नहीं बनने को लेकर कांग्रेस को जिम्मेवार ठहराया

सीपीआई नेता भुनेश्वर प्रसाद मेहता (Bhubaneswar Mehta) ने कहा कि भाजपा (BJP) को हराने के लिए हम चाहते थे कि मजबूत महागठबंधन बने, लेकिन कांग्रेस (Congress) के अड़ियल रवैये की वजह से महागठबंधन नहीं बन पाया.

  • Share this:
हजारीबाग. महागठबंधन से अलग सीपीआई (CPI) ने विधानसभा चुनाव में 16 सीटों पर उम्मीदवार (Candidates) उतारने का ऐलान किया है. इसमें सात सीट के लिए पार्टी ने उम्मीदवारों का चयन भी कर लिया है. पार्टी के राज्य सचिव भुनेश्वर प्रसाद ने न्यूज-18 से उम्मीदवारों के नाम को साझा किया. भुनेश्वर प्रसाद मेहता ने कहा कि भाजपा (BJP) को हराने के लिए हम चाहते थे कि मजबूत महागठबंधन बने, लेकिन कांग्रेस के अड़ियल रवैये की वजह से महागठबंधन नहीं बन पाया. बावजूद इसके वामदल जहां-जहां से चुनाव लड़ेंगे, उसको छोड़कर अन्य जगहों पर गठबंधन के उम्मीदवार को मदद करेंगे.

सीपीआई उम्मीदवारों की सूची 

भवनाथपुर- रामेश्वर प्रसाद अकेला



मांडू- महेंद्र पाठक
छतरपुर- ज्ञानेश्वर भुइंया

सिमरिया- विनोद बिहारी पासवान

बेरमो- आफताब आलम

नाला- कन्हाई माल पहाड़िया

बोरियो- सोनाराम मढ़ैया

महागठबंधन के तहत सीपीआई ने 6 सीटों की मांग की थी, लेकिन कांग्रेस-जेएमएम में सीट शेयरिंग के पेंच के चलते अब तक महागठबंधन नहीं बन पाया है. इस बीच सीपीआई ने 16 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया. इनमें छतरपुर, सिमरिया, बड़कागांव, भवनाथपुर, रामगढ, बेरमो, मांडू, डुमरी, नाला, बोरियो, कांके, सारठ, जरमुंडी, बरकट्ठा, हजारीबाग और बहरागोड़ा या घाटशिला शामिल हैं.

5 चरणों में चुनाव 

गौरतलब है कि झारखंड विधानसभा चुनाव 5 चरणों में होंगे. पहले फेज के लिए 30 नवंबर को वोटिंग होगी, जबकि दूसरे चरण के लिए 7 दिसंबर, तीसरे फेज के लिए 12 दिसंबर, चौथे फेज के लिए 16 दिसंबर और पांचवें फेज के लिए 20 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. 23 दिसंबर को मतगणना होगी और चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे. विधानसभा चुनावों के ऐलान के साथ ही राज्य में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गयी है.

(रिपोर्ट- राकेश कुमार)

ये भी पढ़ें- गुमला विधानसभा क्षेत्र: उरांव जाति के नेताओं का रहा है दबदबा, 6 बार जीती बीजेपी

 

 

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज