महाविद्यालय के मेस चार्ज में की 5 हजार की वृद्धि फिर भी छात्राओं से बनवाते हैं खाना !

फीस वृद्धि अनुसार सुविधाएं दिए जाने की मांग करते प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय के छात्र-छात्रा

फीस वृद्धि अनुसार सुविधाएं दिए जाने की मांग करते प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय के छात्र-छात्रा

छात्रों का कहना है कि एक वर्ष में शिक्षा शुल्क के रूप में 13 हजार की बढ़ोत्तरी की गई है तो वहीं मेस चार्ज में 5 हजार की रकम बढ़ा दी गई है. लेकिन इतना शुल्क बढ़ाने के बाद भी जो महाविद्यालय प्रबंधन के द्वारा सुविधाएं दिए जाने की बात कही थी वह कहीं नजर नहीं आती हैं.

  • Share this:
हजारीबाग के सीतागढ़ स्थित प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय के छात्र-छात्रा पिछले तीन दिनों से अपने विभिन्न मांगों को लेकर महाविद्यालय परिसर के बाहर धरने पर बैठे हैं. दरअसल छात्र-छात्राएं महाविद्यालय के द्वारा फीस बढ़ोत्तरी के बाद जो सुविधाएं देने का की बात कही थी, वह अब तक पूरी नहीं हो पाई है. छात्रों का कहना है कि एक वर्ष में शिक्षा शुल्क के रूप में 13 हजार की बढ़ोत्तरी की गई है तो वहीं मेस चार्ज में 5 हजार की रकम बढ़ा दी गई है. लेकिन इतना शुल्क बढ़ाने के बाद भी जो महाविद्यालय प्रबंधन के द्वारा सुविधाएं दिए जाने की बात कही थी वह कहीं नजर नहीं आती हैं. जैसे आधुनिक लैब, शिक्षकों की संख्या और  मेस में कुक बढ़ाने की बात कही गई थी लेकिन वह अब तक पूरा नहीं हुआ है.



धरना दे रही छात्राओं ने बताया कि सुबह को खुद से ही मेस में  जाकर खाना बनाना पड़ता है और उसके बाद पढ़ाई के लिए महाविद्यालय आना पड़ता है. वहीं जब पढ़ाई के लिए महाविद्यालय में आते हैं तो शिक्षकों की कमी को भी झेलना पड़ता है. इसी वजह से परिसर के बाहर बैठे हैं. वहीं महाविद्यालय के प्रिंसिपल का कहना है की छात्राओं की कुछ मांगे तो जायज हैं, जो विचारणीय हैं. उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में लैब सही है. प्रिंसिपल ने छात्रों से कॉलेज  प्रशासन को सहयोग करने और बेहतर शिक्षा लेने की अपील की. हालांकि कॉलेज प्रबंधन और छात्र-छात्राएं आमने-सामने हैं और अब तक कोई वार्ता नहीं हो पाई है.





यह भी पढ़ें - छात्र नेता पर जानलेवा हमला, बदमाशों ने स्कॉर्पियो पर बरसाईं गोलियां









यह भी पढ़ें - बकोरिया कांड : SC ने खारिज की सीबीआई जांच रोकने की झारखंड सरकार की याचिका
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज