• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • Hazaribagh News: लोहा गलाने वाली भट्ठी में गिरा मजूदर, 1538 °C तापमान में पल भर में निकल गई जान

Hazaribagh News: लोहा गलाने वाली भट्ठी में गिरा मजूदर, 1538 °C तापमान में पल भर में निकल गई जान

Labour Burnt Alive: लोहा गलाने वाली भट्ठी में गिरने से मजदूर विकास यादव जिंदा जल गए. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Labour Burnt Alive: लोहा गलाने वाली भट्ठी में गिरने से मजदूर विकास यादव जिंदा जल गए. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Accident in Chintpurni Steel Factory: चिंतपूर्णी स्‍टील एवं लौह फैक्‍ट्री में काम के दौरान बुधवार देर रात यह दुर्घटना हुई. मजदूर विकास यादव लोहा गलाने वाली भट्ठी के ठीक ऊपर काम कर रहे थे, जब व‍ह अचानक से भट्ठी में जा गिरे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    जावेद खान

    हजारीबाग. झारखंड के हज़ारीबाग ज़िले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जिसे सुनकर आपक रोंगटे खड़े हो जाएंगे. जानकारी के अनुसार, यहां के चरही थाना क्षेत्र के 15 माइल के पास दुधी नदी किनारे चिंतपूर्णी स्टील एंड आयरन फैक्ट्री स्थित है. फैक्‍ट्री के लोहा गलाने वाली भट्ठी में गिरने से एक मज़दूर की दर्दनाक मौत हो गई. मृतक की पहचान विकास यादव (35) के तौर पर की गई है. वह बिहार के बांका ज़िले के रहने वाले थे. घटना देर रात्रि 11 बजे की है.

    जिस वक्‍त यह हादसा हुआ, उस समय विकास लोहा गलाने वाली भट्ठी के ठीक ऊपर काम कर रहे थे. उसी दौरान वह अचानक लोहा गलाने वाले भट्ठी में गिर पड़े. इस हादसे में विकास जिंदा जल गए. उनकी मौके पर ही पल भर में मौत हो गई. उनक साथियों को उन्‍हें बचाने तक का मौका नहीं मिला और वह भट्ठी में उनका शरीर धू-धू कर जल उठा. इस घटना के बाद फैक्‍ट्री में कार्यरत मज़दूरों में आक्रोश है. चरही थाना प्रभारी आनंद आज़ाद इस मामले की जांच कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि फैक्ट्री प्रबंधन सुरक्षा उपकरणों का इस्तेमाल कार्य के दौरान नहीं करता है, इसी कारण यह बड़ा हादसा हो गया. मजदूरों ने घटना की जांच की मांग करते हुए मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा देने की भी मांग की है.

    एशियाई और कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में पदक जीतने वाला बॉक्‍सर कर रहा सिक्‍योरिटी गार्ड की नौकरी, बच्‍चे छोड़ चुके हैं पढ़ाई

     बता दें कि लोहा 1538 डिग्री सेल्सियस तापमान पर पिघलता है. अब आप अनुमान लगा सकते हैं कि जब 40 डिग्री सेल्सियस में आपको काफी गर्मी लगती है तो 1538 डिग्री तापमान पर क्‍या होगा. इतने उच्‍च तापमान पर किसी भी सजीव को जलाने में कुछ ही सेकेंड का समय लगता है. ऐसे में जब विकास भट्ठी में गिरे तो कुछ ही लम्‍हों में उनकी मौत हो गई और चाहकर भी उनके साथी उन्‍हें बचाने में कामयाब नहीं हो सके. अब फैक्‍ट्री में काम करने वाले मजदूरों का आरोप है कि स्‍टील फैक्‍ट्री में काम के दौरान सुरक्षा मानकों का ख्‍याल नहीं रखा जाता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज