मनरेगा कर्मचारियों ने भीख मांग कर किया प्रदर्शन, मंत्री आवास घेरने की चेतावनी

चुनाव नजदीक आते ही सरकार पर अपनी मांगों को लेकर दबाव बनाने के लिए विभिन्न संगठन सड़कों पर आन्दोलन कर रहे हैं. इसी उद्देश्य से शुक्रवार को झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ ने अपने पांच सूत्री मांगों को लेकर आंदोलन तेज किया.

Rakesh Kumar | News18 Jharkhand
Updated: October 12, 2018, 9:40 PM IST
मनरेगा कर्मचारियों ने भीख मांग कर किया प्रदर्शन, मंत्री आवास घेरने की चेतावनी
कटोरा लेकर भीख मांगने के साथ प्रदर्शन करते मनरेगा कर्मचारी
Rakesh Kumar | News18 Jharkhand
Updated: October 12, 2018, 9:40 PM IST
चुनाव नजदीक आते ही सरकार पर अपनी मांगों को लेकर दबाव बनाने के लिए विभिन्न संगठन सड़कों पर आन्दोलन कर रहे हैं. इसी उद्देश्य से शुक्रवार को झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ ने अपने पांच सूत्री मांगों को लेकर आंदोलन तेज किया. इसी आंदोलन की कड़ी में आज हजारीबाग के समाहरणालय के समक्ष संघ ने भिक्षाटन कार्यक्रम आयोजित कर सरकार के प्रति रोष जताया.

संघ का कहना है कि मनरेगा कर्मी पिछले 11 वर्षों से कार्यरत हैं बावजूद उनकी मांगों पर सरकार अब तक विचार नहीं की है. लिहाजा ऐसे में आंदोलन करने के अलावा कोई दूसरा विकल्प संघ के पास नहीं है. कर्मचारियों ने आगे की भी आंदोलन की रणनीति बनाई है जिसमें ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा के आवास को घेरने का भी कार्यक्रम तय किया है.

आक्रोशित संघ के सदस्यों ने आने वाले चुनाव में भी सरकार के खिलाफ खड़ा होने के साथ-साथ भीख मांग कर जमा टन की जमा धनराशि को मुख्यमंत्री के खाते में भेजने की बात कही है. संघ ने इससे पूर्व दो अक्टूबर गांधी जयंती के मौके पर भी कुम्हारटोली स्थित गांधी स्मारक के समीप एक दिवसीय उपवास रखकर सरकार से अपनी मांगे रखने की कोशिश की थी.

यह भी पढ़ें - ग्लोबल हंगर इंडेक्स में खुलासा, झारखंड की आधी आबादी को नहीं मिलता है पर्याप्त खाना

यह भी पढ़ें - आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णो को 26 फीसदी आरक्षण देने पर विचार- रामदास अठावले
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर