चमत्कार! संक्रमित मांओ की गोद में खेलकर स्तनपान कर रहे हैं, फिर भी नवजातों की रिपोर्ट आई निगेटिव
Hazaribagh News in Hindi

चमत्कार! संक्रमित मांओ की गोद में खेलकर स्तनपान कर रहे हैं, फिर भी नवजातों की रिपोर्ट आई निगेटिव
कोरोना पॉजिटिव मांओ के पास रहकर भी नवजात संक्रमित नहीं हुए. (सांकेतिक तस्वीर)

जब दोनों मांए (Corona Infected Mothesr) बच्चों के साथ कोविड 19 वार्ड में भर्ती हुईं, तो एक बच्चे को हल्की बुखार थी. तब दोनों बच्चों (Newborns) का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया. लेकिन दोनों की रिपोर्ट निगेटिव आई है.

  • Share this:
हजारीबाग. दाे काेराेना संक्रमित महिलाओं ने 14 दिन पहले बच्चाें (Newborns) काे जन्म दिया. दोनों बच्चे काेविड अस्पताल में भर्ती मां की गाेद खेलते हैं. उनका स्तनपान कर रहे हैं, पर दाेनाें बच्चाें की कोरोना रिपाेर्ट निगेटिव आई है. दोनों बच्चों की इस रिपोर्ट पर अस्पताल के चिकित्सक, स्वास्थ्यकर्मी, जिला प्रशासन के साथ-साथ आमलोग भी हैरत में हैं. हालांकि डॉक्टरों के मुताबिक ऐसा हो सकता है, क्याेंकि दुनिया में सबसे ताकतवर मां होती है. मां के दूध में किसी भी संक्रमण से लड़ने की शक्ति होती है. बच्चे स्तनपान कर रहे हैं, इसलिए कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के शिकार नहीं हुए हैं.

एक बच्चे को बुखार थी, इसलिए लिया सैंपल 

अस्पतालकर्मियों ने बताया कि जब दोनों मांए बच्चों के साथ कोविड 19 वार्ड में भर्ती हुईं, तो एक बच्चे को हल्की बुखार थी. जिसका इलाज एचएमसीएच अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ से कराया गया. साथ ही सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया. लेकिन दोनों नवजातों की रिपोर्ट निगेटिव आई है. वर्तमान में दोनों बच्चे स्वस्थ हैं. कोविड 19 वार्ड में मां के साथ रह रहे हैं. मां भी स्वस्थ है. दोनों मांओ के रिपीट सैंपल जांच के लिए भेजे जा चुके हैं. सभी को इनकी दूसरी जांच रिपोर्ट आने का इंतजार है. उम्मीद जताई जा रही है कि दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आएगी. तब दोनों नवजात के साथ मांओ को अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.



दोनों माएं एचएमसीएच में हैं भर्ती 



दोनों महिलाएं कटकमसांडी प्रखंड क्षेत्र की रहने वाली हैं. गत 11 मई को एचएमसीएच अस्पताल में सिजेरियन ऑपरेशन से दोनों ने बच्चों को जन्म दिया है. महिलाओं का 10 मई को सैंपल जांच के लिए भेजा गया था. 14 मई को इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. हालांकि 13 मई को दोनों छुट्टी लेकर घर जा चुकी थीं, लेकिन जैसे ही रिपोर्ट पॉजिटिव आई, दोनों महिलाओं को कोविड अस्पताल में भर्ती कराई गई. जिसके बाद अस्पताल के सारे मरीज और 44 स्वास्थ्यकर्मी का स्वाब सैंपल लिया गया और तत्काल सभी को क्वारंटाइन किया गया. लेकिन जब सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई, तो अस्पताल के चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मियों ने राहत महसूस किया.

ये भी पढ़ें- सॉरी भाई हम भी कड़की में हैं, मजदूरों से 2000 लूटकर 1200 लौटाए, फिर बदमाशों ने मांगी माफी

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading