अपना शहर चुनें

States

हजारीबाग से जुड़ा मुंगेर एके-47 मामले का तार, एनआईए ने मारा छापा

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

एनआईए की टीम हजारीबाग के गिद्दी थाना इलाके में छापेमारी की है. मोनाजिर हसन नामक शख्स के घर पर छापा मारा गया है.

  • Share this:
बिहार के मुंगेर के एके-47 मामले का तार झारखंड के हजारीबाग से जुड़ गया है. इस सिलसिले में एनआईए की टीम हजारीबाग के गिद्दी थाना इलाके में छापेमारी की है. मोनाजिर हसन नामक शख्स के घर पर छापा मारा गया है. फिलहाल इस कार्रवाई को लेकर एनआईए की ओर से कुछ भी नहीं कहा गया है.

उधर, AK-47 बरामदगी मामले में मुंगेर पुलिस ने 6 माह के अंदर 14 अभियुक्तों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. इनमें तीन महिलाएं भी शामिल हैं. 29 अगस्त 2018 को मुंगेर के जमालपुर में तीन एके-47 राइफल और भारी मात्रा में पार्ट्स की बरामदगी की गई थी.

पुलिस की जांच रिपोर्ट के अनुसार सभी बरामद एके-47 और पार्ट्स जबलपुर के सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो (सीओडी) से निकाले गए थे. मुंगेर के सदर एएसपी हरि शंकर कुमार ने बताया कि 29 अगस्त 2018 को जमालपुर थाना क्षेत्र के जुबली वेल के पास तीन एके-47 राइफल और भारी मात्रा में पार्ट्स के साथ मो. इमरान को गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद जमालपुर थाना कांड संख्या 258/18 दर्ज किया गया, जिसमें कुल 25 अभियुक्त बनाए गए थे.



सदर एएसपी ने कहा कि जांच रिपोर्ट में पाया गया कि ये सभी हथियार और पार्ट्स जबलपुर के सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो से निकाले गए थे. और सेना के जवानों को सप्लाई होने वाले ओरिजनल हथियार हैं. इस मामले में पुलिस ने कुल आठ केस दर्ज किए, जिसमें एक मामले की जांच एनआईए कर रही है. अभी तक पुलिस ने इस मामले में तीन दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है.
इनपुट- जयंत कुमार

ये भी पढ़ें- ट्यूशन टीचर ने किया रेप, तो आहत होकर 10वीं की छात्रा ने कर ली खुदकुशी

बाइक को रौंदने के बाद धू- धू कर जली बस, दो युवकों की मौत

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज